Move to Jagran APP

उन्नाव सांसद साक्षी महाराज का बड़ा बयान, बोले- छह दिसंबर से पहले शुरू होगा राम मंदिर निर्माण

दो दिवसीय उन्नाव दौरे पर उन्होंने बयान दिया कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण छह दिसंबर से पहले शुरू होगा। उन्होंने कहा कि मैं इसके लिए सुप्रीम कोर्ट के जजों को धन्यवाद देता हूं।

By Dharmendra PandeyEdited By: Published: Sat, 26 Oct 2019 03:27 PM (IST)Updated: Sat, 26 Oct 2019 03:56 PM (IST)
उन्नाव सांसद साक्षी महाराज का बड़ा बयान, बोले- छह दिसंबर से पहले शुरू होगा राम मंदिर निर्माण

उन्नाव, जेएनएन। भारतीय जनता पार्टी के फायरब्रांड नेता और उन्नाव से सांसद साक्षी महाराज ने अयोध्या में राम मंदिर को लेकर बड़ा बयान दिया है। अयोध्या में विवादित भूमि का फैसला सुप्रीम कोर्ट में सुरक्षित रहने के बाद साक्षी महाराज ने अयोध्या में श्रीराम के मंदिर के निर्माण की तारीख भी घोषित कर दी है।

loksabha election banner

दो दिवसीय उन्नाव दौरे पर उन्होंने बयान दिया कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण छह दिसंबर से पहले शुरू होगा। उन्होंने कहा कि मैं इसके लिए सुप्रीम कोर्ट के जजों को धन्यवाद देता हूं, जिन्होंने दोनों पक्षों को बहुत ही गंभीरता से सुना। इसके साथ ही साथ उन्होंने ही कहा मुझे लगता है कि आगामी छह दिसंबर से हम अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण शुरू कर देंगे। उन्नाव के दो दिवसीय दौरे के दूसरे दिन शनिवार को साक्षी महाराज ने कहा सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर की सुनवाई चल रही थी। वो अब लगभग पूरी हो चुकी है सिर्फ इसमें फैसला आना बाकी है।

उन्होंने कहा कि मैं इसके लिए सुप्रीम कोर्ट के जजों को धन्यवाद देता हूं। जिन्होंने दोनों पक्षों को बहुत ही गंभीरता से सुना। भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने कहा कि पुरातत्व विभाग ने भी अपने तथ्य सुप्रीम कोर्ट में प्रस्तुत किए थे, वहीं शिया वक्फ बोर्ड ने लिख कर दिया कि अयोध्या में राम मंदिर बनना चाहिए।

साक्षी महाराज ने आगे कहा कि जिस प्रकार धारा 370, 35 ए पीएम नरेंद्र मोदी ने खत्म किया है, उसी प्रकार यह भी एक मील का पत्थर साबित होने वाला है। सुप्रीम कोर्ट को तो इसका श्रेय जाएगा ही और मुसलमानों को भी जाएगा, जिन्होंने समर्थन किया है। मोदी जी और अमित शाह को इसका श्रेय जाना चाहिए जिनके कार्यकाल में ऐसा सौहार्दपूर्ण माहौल बना। जैसे कश्मीर से 370 हटाने के बाद एक पत्ता तक नहीं हिला, हमें विश्वास है कि राम मंदिर पर जो भी फैसला आएगा मोदी जी के नेतृत्व वाली सरकार में गृह मंत्री अमित शाह के कार्यकाल में हिंदू और मुसलमान मिलकर के अयोध्या में छह दिसंबर से भव्य मंदिर का निर्माण करेंगे। साक्षी महाराज ने कहा कि मेरी अंतरात्मा यही कहती है, जो तथ्य प्रस्तुत किए गए, दोनों पक्षों को सुना गया है और मुसलमानों ने भी बढ़-चढ़कर के श्रीराम का सम्मान करने का प्रयास किया है। उसके आधार पर मैं कह सकता हूं कि फैसला श्रीराम के पक्ष में आएगा।

सांसद की मौजूदगी में भड़कीं प्रभारी मंत्री

उन्नाव की प्रभारी मंत्री कमल रानी वरुण ने शुक्रवार को विकास भवन सभागार में विकास कार्यों की समीक्षा की। उनके साथ बैठक में सांसद साक्षी महाराज भी थे। प्रभारी मंत्री ने इस दौरान पिछली बैठक में दिए गए दिशा निर्देशों के पालन की जानकारी चाही तो जनप्रतिनिधियों ने कहा एक भी मामले का निस्तारण नहीं किया गया। जिन मामलों में सूचना देने का निर्देश हुआ था अफसरों ने उनकी सूचना भी नहीं दी। यह सुनकर प्रभारी मंत्री का पारा चढ़ गया। उन्होंने अफसरों को जमकर फटकार लगाई और बीच में बैठक खत्म कर बाहर चली गई। प्रभारी मंत्री कमल रानी विकास कार्यों और कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहीं थीं।

उन्होंने कल मुख्यमंत्री के शीर्ष प्राथमिकता के 71 बिन्दुओं पर विकास कार्यों की समीक्षा शुरू की। 40 बिंदुओं तक चर्चा के बीच यह सामने आया कि पिछले बैठक में प्रभारी मंत्री जिन विकास कार्यों को पूरा करने और जन प्रतिनिधियों को सूचना देने को कहा था उस पर अमल नहीं हुआ है। इस पर प्रभारी मंत्री ने बैठक में मौजूद विधायकों से जानकारी ली तो बताया कि एक दो को छोड़कर अधिकतर अफसरों ने कोई सूचना नहीं दी है। बस मंत्री का पारा चढ़ गया उन्होंने अफसरों को सीधे निशाने पर लेते हुए चेतावनी दी अपना रवैया सुधार लें वर्ना दंडात्मक कार्रवाई के लिए तैयार रहें।

चेतावनी के बाद मंत्री ने बैठक खत्म करने की घोषणा कर दी। प्रभारी मंत्री ने डीएम देवेंद्र कुमार को भी चेताया कि मातहतों पर अंकुश लगाएं जो अनसुनी कर रहे उनकी रिपोर्ट दें, वह मुख्यमंत्री से बात कर उन्हें जिले से बाहर कराऊंगी। मंत्री का पारा चढ़ा देख बैठक में मौजूद अफसरों को सांप सूंघ गया। बैठक में डीएम देवेन्द्र कुमार पांडेय ने जिला स्तरीय अधिकारियों को अपने-अपने विभाग की बैठक कर योजनाओं की समीक्षा करने का निर्देश दिया। बैठक में सदर विधायक पंकज गुप्ता, पुरवा विधायक अनिल सिंह, सफीपुर विधायक बम्बालाल दिवाकर, मोहान विधायक बृजेश रावत, एसपी माधव प्रसाद वर्मा, सीडीओ प्रेम रंजन सिंह आदि अधिकारी मौजूद रहे।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.