सुलतानपुर : शुक्रवार को जिले के दौरे पर पहुंचे बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ सतीश चंद्र द्विवेदी ने कुड़वार ब्लॉक के पूरे लेदई गांव में अटल विहारी बाजपेयी स्मार्ट क्लास का लोकार्पण किया। मंत्री ने परिसर में पौधारोपण भी किया। इसके बाद निरीक्षण भवन में उन्होंने आलाधिकारियों के साथ बैठक की।

तय समय से दो घंटे देरी से 12 बजे पहुंचे मंत्री ने कहा कि प्रदेश के हर विद्यालयों को मॉडल बनाने के लिए शिक्षक और अभिभावक को आगे आना होगा। इन विद्यालयों से बेसिक शिक्षा पहले गुरुकुल की पढ़ाई जैसी वापस लौट रही है। भाजपा काशी प्रांत उपाध्यक्ष रामचंद्र मिश्र ने अपने पैतृक गांव पूरे लेदई के जीर्ण-शीर्ण हो चुके प्राथमिक विद्यालय को 22 जुलाई 2017 में गोद लिया था। जिसमें आज इंटरनेट, प्रोजेक्टर, कंप्यूटर, आरओ आदि व्यवस्थाएं मौजूद है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की महत्वाकांक्षी प्रेरणा एप को कड़ाई से लागू किया जाएगा। जल्द ही 69 हजार शिक्षकों की भी भर्ती की जाएगी। आयोजक रामचंद्र मिश्र ने कहा कि यह मॉडल विद्यालय लगातार आगे बढ़ रहा है। जिले में दो सौ प्राथमिक विद्यालयों को मॉडल बनाया जाएगा। इस मौके पर भाजपा जिलाध्यक्ष जगजीत सिंह छंगू, सीडीओ मधुसूदन हुल्गी, बीएसए कृष्ण कुमार सिंह, उमादत्त तिवारी, सूर्य प्रकाश द्विवेदी, सुशील त्रिपाठी, शशिकांत पांडेय, कृपाशंकर मिश्र, करुणाशंकर द्विवेदी, डॉ आरए वर्मा, सांसद प्रतिनिधि रंजीत सिंह, सीएमओ डॉ. सीबीएन त्रिपाठी आदि मौजूद रहे। ऑफ लाइन स्वीकार नहीं होगी छुट्टी

बेसिक मंत्री ने निरीक्षण भवन में डीएम सी इंदूमती, मुख्य विकास अधिकारी मधुसूदन हुल्गी, एडी बेसिक रवींद्र कुमार सिंह, बीएसए कृष्ण कुमार सिंह के साथ निरीक्षण भवन में बैठक की। इस दौरान उन्होंने कहा कि किसी भी शिक्षक की छुट्टी ऑफलाइन स्वीकार नहीं किया जाएगा। उन्होंने विद्यालयों के कायाकल्प के लिए डीएम से सीडीओ, डीपीआरओ व बीएसए की बैठक सूचनाएं एकत्रित करने के लिए कहा। विद्यालय प्रबंध समितियों के खाते में बची धनराशि की सूचना भी शासन को मुहैया कराने का निर्देश दिया गया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप