सुलतानपुर : राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत पात्र गृहस्थी व अंत्योदय योजना के लाभार्थियों को मिलने वाले खाद्यान्न व केरोसिन की हकीकत परखने आए खाद्य आयोग के अध्यक्ष नंद किशोर यादव को राशन वितरण में सरकारी दुकान पर खामियां मिली हैं। शनिवार को पत्रकारों से रूबरू हो उन्होंने स्वीकार किया है कि पहले की अपेक्षा काफी सुधार हुआ है, लेकिन अभी भी कमियां रह गई हैं। जिसे आने वाले समय में पूरी तौर पर दूर किया जाएगा। उन्होंने खामियों को ठीक करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं।

अध्यक्ष ने कहा कि उन्होंने कुड़वार में विपणन विभाग के गोदाम व दूबेपुर ब्लाक के अहिमाने में सरकारी दुकान का निरीक्षण किया, जिसमें पाया कि जिस मापक यंत्र से अनाजों को तौला जा रहा था वह बाट-माप विभाग से सत्यापित नहीं था। वितरण में भी कई शिकायतें प्राप्त हुई हैं। सुलतानपुर में 92 फीसद राशन जुलाई माह में वितरित हो गया। आठ फीसद बचत खाद्यान्न का रिकार्ड दर्ज किया गया है। इस दौरान उन्होंने राशन पोर्टेबिलिटी पर भी चर्चा की। नए राशन कार्ड बनाने के सवाल पर डीएसओ अभय सिंह ने कहा कि अगस्त माह में तहसील स्तर पर कैंप लगाकर कार्ड बनाए जाएंगे। तीन सौ से अधिक ई-पोस मशीनों के खराब होने, सिम के रिचार्ज की समस्या और मैनुअल खाद्यान्न वितरण पर उन्होंने कहा कि संबंधित कंपनी से सिम रिचार्ज करने के बारे में बात हो रही है। सिर्फ पांच-छह मशीनों के खराब होने की बात मानी और उन्होंने कहा कि जुलाई माह में जो कोटेदार बिना ई-पोस के खाद्यान्न बांट रहे हैं, उस वितरण को उनका विभाग नहीं मानेगा।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस