संवादसूत्र, सुलतानपुर : ऑटो रिक्शा को सीज कर उसमें लगे सामानों को गायब करने के मामले में मुख्य दंडाधिकारी ने पूर्व कोतवाल समेत अन्य पुलिस कर्मी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है। मामला नगर कोतवाली का है।

विद्यायादव पत्नी अच्छेराम यादव नगर पालिका की वार्ड मेंबर का चुनाव लड़ रही थीं। आरोप है कि पुलिस द्वारा विपक्षियों को लाभ पहुंचाने के लिए 23 नवंबर 2017 को उनके निजी वाहन को सीज कर दिया गया। ऑटो में लगा सामान नगर कोतवाली से गायब कर दिया गया। विद्यायादव के पति अधिवक्ता अच्छेराम यादव के तमाम प्रयासों के बावजूद सामान वापस नहीं मिला। अंत में उन्होंने न्यायालय की शरण ली। मुख्यदंडाधिकारी आशारानी ¨सह ने मामले को गंभीरता से लेते हुए पूर्व कोतवाल समेत अन्य पुलिस कर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है।

Posted By: Jagran