सुलतानपुर: खेत के किनारे लगाई गई बाड़ में प्रवाहित करंट की चपेट में आने से छात्र की मौत हो गई। मवेशियों से फसल बचाने के लिए दुष्यंत पाल सिंह ने खेत के किनारे बाड़ लगा रखी है। घर में लगे बिजली बोर्ड से बाड़ में करंट प्रवाहित कर दिया था। इसी के चलते छात्र की मौत हुई। थाना प्रभारी कृष्ण मोहन सिंह ने बताया कि मामले में रिपोर्ट दर्जकर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

लमौली मोतिगरपुर का अमन कक्षा आठ का छात्र था। शीतकालीन छुट्टी होने के चलते एक सप्ताह पूर्व वह अखंडनगर के मरुई किशुनदासपुर निवासी नाना राम शिरोमणि के यहां आया था। सुबह वह नित्यक्रिया के लिए खेत की ओर गया था। बेसहारा पशुओं से फसल की सुरक्षा के लिए एक किसान ने अपने खेत को बाड़ से घेर रखा था, जिसमें करंट प्रवाहित था। मेड़ से गुजरते वक्त किशोर करंट की चपेट में आ गया और उसकी मौत हो गई। काफी देर तक वापस न लौटने पर उसकी नानी प्रेमा देवी ने खोजबीन शुरू की, लेकिन पता नहीं चल सका।

वहीं, एक राहगीर ने देखा तो उसने इसकी जानकारी दी। मौके पर लोग पहुंचे तो किशोर औंधे मुंह पड़ा था। उसकी सांसें थम चुकी थीं। इसकी सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन शुरू कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

बुझ गया घर का चिराग:

अमन की मृत्यु के कारण घर का चिराग बुझ गया। उसकी मां कुसुम का दस साल पहले निधन हो चुका है। इस कारण नानी उसे अक्सर अपने पास रखती थीं। स्कूल में जब भी अवकाश होता, वह ननिहाल आ जाता था। इस घटना के बाद परिवारजन रो-रोकर बेहाल हैं।

थाना प्रभारी कृष्ण मोहन सिंह ने बताया कि परिवारजन की तरफ से अभी कोई तहरीर नहीं मिली है। घटना की जांच की जा रही है। तहरीर मिलते ही रिपोर्ट दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

रिपोर्ट दर्ज, आरोपित किसान गिरफ्तार

मवेशियों से फसल बचाने के लिए दुष्यंत पाल सिंह ने खेत के किनारे बाड़ लगा रखी है। घर में लगे बिजली बोर्ड से बाड़ में करंट प्रवाहित कर दिया था। इसी के चलते छात्र की मौत हुई। थाना प्रभारी कृष्ण मोहन सिंह ने बताया कि मामले में रिपोर्ट दर्जकर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, घरेलू कनेक्शन का गलत इस्तेमाल करने की जानकारी मिलने पर बिजली विभाग के कर्मचारियों ने भी जांच-पड़ताल की। घटना के बाद जन आक्रोश को देखते हुए गांव में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है।

Edited By: Jagran