Move to Jagran APP

UPPCL: 24 घंटे के भीतर ओबरा परियोजना की दो इकाइयां बंद, यूपी के कई इलाकों से की गई आपात बिजली कटौती

UPPCL ओबरा तापीय परियोजना की पहली इकाई बंद होने के बाद चौबीस घंटे के अंदर दूसरी परियोजना भी तकनीकी खराबी के कारण बंद हो गई। इससे कई इलाकों में बिजली संकट उत्पन्न हो गया। इकाइयों के बंद होने से प्रदेश के कई अलग-अलग हिस्सों में बिजली कौटती की गई। लोगों को उमस भरी गर्मी में पानी समेत कई समस्याओं से रूबरू होना पड़ा।

By julfequar haider khan Edited By: Abhishek Pandey Wed, 10 Jul 2024 04:14 PM (IST)
सोनभद्र स्थित ओबरा परियोजना इकाइयां (इमेज क्रेडिट- जागरण)

संवाद सूत्र, ओबरा (सोनभद्र)। पिछले चौबीस घंटे के भीतर ओबरा तापीय परियोजना की दो इकाइयां बंद हो गईं। इकाइयों के बंद होने से सूबे के अलग-अलग हिस्सों में हुई आपात बिजली कटौती से लोगों को उमस भरी गर्मी में काफी मुश्किलें झेलनी पड़ी।

मंगलवार दोपहर लगभग एक बजे ब्वायलर ट्यूब लीकेज के कारण ओबरा तापीय परियोजना की तेरहवीं इकाई बंद करनी पड़ी। इकाई के बंद होने के बाद अभियंताओं ने लीकेज को दूर कर इकाई को पुनः लाइटअप करने का प्रयास युद्धस्तर पर शुरू कर दिया, लेकिन अगले 20 घंटों में ही बुधवार सुबह लगभग आठ बजे परियोजना की बारहवीं इकाई भी तकनीकी खराबी के कारण बंद हो गयी। इससे कई स्थानों पर हुई बिजली कटौती से सूबेवासियों को काफी समस्या उठानी पड़ी।

चौबीस घंटों के भीतर दो इकाइयों के बंद होने पर प्रबंधन ने इकाइयों को जल्द से जल्द चालू करने का प्रयास शुरू कर दिया। जिनसे जल्द ही उत्पादन शुरू होने की उम्मीद जताई जा रही है। दोपहर तक परियोजना के ''ब'' ताप विद्युत गृह की उत्पानरत नौवीं इकाई से 139 मेगावाट, दसवीं इकाई से 151 मेगावाट और ग्यारहवीं इकाई से 81 मेगावाट उत्पादन होने के साथ ही ओबरा ''सी'' परियोजना की पहली इकाई से 405 मेगावाट उत्पादन हो रहा था।

इसे भी पढ़ें: कानपुर-वाराणसी समेत इन 12 बस अड्डों पर बनेंगे शॉपिंग मॉल-पार्किंग, खास सुविधाओं से होगा लैस