जागरण संवाददाता, दुद्धी (सोनभद्र) : कोलकाता के रेलवे सुरक्षा आयुक्त मोहम्मद लतीफ खां ने शनिवार को मुख्य प्रशासनिक अधिकारी अशोक कुमार व धनबाद मंडल के प्रबंधक अनिल कुमार मिश्रा के साथ निर्माणाधीन रेल लाइन का निरीक्षण किया। दुद्धी नगर से झारो रेलवे स्टेशन के बीच मोटो ट्राली पर बैठकर नई लाइन को देखा। साथ में चल रहे रेल अफसरों पर कभी नाराजगी तो कभी शाबासी देते नजर आए।

शनिवार को दोपहर लगभग 12.20 पर स्पेशल ट्रेन दुद्धी स्टेशन पर पहुंची। इस दौरान रेलवे सुरक्षा आयुक्त, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी एवं मंडल रेल प्रबंधक की अगवानी करने के बाद अधिकारियों का कारवां उनके पीछे चल पड़ा। आयुक्त ने स्टेशन पर निर्माणाधीन अत्याधुनिक कंट्रोल रूम एवं दुद्धी से झारों के बीच बिछाई गई नई रेल लाइन की तकनीकी कनेक्टिविटी परखी। मातहत अधिकारियों से कार्यप्रणाली के बाबत पूछताछ की। करीब घंटे भर के निरीक्षण के बाद आयुक्त का काफिला ट्रैक पर पहुंचा। इस दौरान मोटो ट्राली पर बैठकर दुद्धी से झारो स्टेशन के बीच की दूरी तय करते हुए बिछाई गई नई रेलवे लाइन को देखा। कई स्थानों पर ट्राली रोकवा कर ट्रैक के मानकों की जांच भी की।

-

स्मोक अलार्म की गुणवत्ता परखने को जलवाई आग

दुद्धी स्टेशन पर निर्माणाधीन अत्याधुनिक कंट्रोल रूप में लगे उपकरणों को परखने के लिए सुरक्षा आयुक्त ने माचिस जलाने का निर्देश दिया। कर्मी ने जैसे ही सेंसर के सामने माचिस की तीली जलाई पूरे स्टेशन परिसर में सायरन गूंजने लगा।

-

ट्रेनों के ठहराव का सवाल टाल गए डीआरएम

निरीक्षण के दौरान पत्रकारों के स्थानीय समस्याओं को लेकर उठाये गये सवालों को जबाव देते हुए डीआरएम अनिल कुमार मिश्रा ने कहा कि ट्रेनों के परिचालन एवं ठहराव का निर्णय रेल मंत्रालय लेता है। यहां स्वर्ण जयंती समेत अन्य ट्रेनों के ठहराव संबंधी पूर्व में भेजे गये मांग पत्रों को रेल मंत्रालय को भेजा जा चुका है। इसके साथ ही कई सवालों को यह कहते हुए टाल दिए कि वे सप्ताह भर के भीतर फिर दौरा करने आ रहे हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस