जागरण संवाददाता, डाला (सोनभद्र) : चोपन थाना क्षेत्र के हरियरी गांव में रह रहे झारखंड के एक नक्सली के ठिकाने पर गुरुवार की रात पुलिस ने छापेमारी की। यहां गोशाला में छिपाकर रखे गए डबल बैरल की एक बंदूक व भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद किया गया। हालांकि मौके से आरोपित नक्सली भाग गया। आधी रात तक पुलिस ने आसपास के इलाकों में तलाशी ली लेकिन कहीं उसका पता नहीं चला। आरोपित अपने ससुराल में तीन साल से रह रहा था।

हरियरी गांव से गुरुवार की रात करीब नौ बजे एक महिला ने डायल 100 को फोन किया। उसने विवाद बताया। जब वहां डायल 100 टीम पहुंची तो कुछ और ही मामला था। फिर क्या चोपन, ओबरा, हाथीनाला थाने की पुलिस के साथ ही एसपी सलमानताज पाटिल भी गांव में पहुंच गए। वहां पता चला कि मनोज कुमार चेरो निवासी हेसलदाग, चेरवाडीह थाना भवनाथपुर, गढ़वा, झारखंड का नक्सली है वह अपने ससुराल में 2016 से रह रहा है। वहां जांच के दौरान पता चला कि उसने गोशाला में कुछ हथियार छिपाकर रखा था। पुलिस ने जब वहां जांच किया तो एक डबल बैरल की बंदूक व 11 गुल्ला (विस्फोटक) बरामद किया गया। चोपन पुलिस के मुताबिक मौके से आरोपित फरार हो गया। उसकी तलाश की जा रही है। प्रभारी निरीक्षक प्रवीण कुमार सिंह ने बताया कि मनोज कुमार चेरो झारखंड का नक्सली है। वह हरियरी में अपने ससुराल में तीन साल से रहा रहा था। वहां जब उसके खिलाफ कार्रवाई हुई तो यहां आकर रहने लगा। मामले की विस्तृत जांच की जा रही है। नक्सली की सूचना से मचा हड़कंप

गुरुवार की रात में जब पुलिस विभाग को पता चला कि हरियरी में नक्सली हैं तो सुनते ही हड़कंप मच गया। आनन-फानन अधिकारियों का काफिला गांव में पहुंच गया। आसपास के कई थानों की पुलिस भी बुला ली गई। वहां रात 12 बजे तक जांच हुई। शुक्रवार की सुबह भी अपर पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में भारी संख्या में पुलिस पहुंची। आस-पास के जंगलों व गांवों में तलाशी ली गई। क्षेत्र पंचायत सदस्य का दामाद है नक्सली नक्सली की सूचना पर पहुंची पुलिस ने जब पड़ताल की तो पता चला कि झारखंड का नक्सली मनोज हरियरी गांव निवासी क्षेत्र पंचायत सदस्य राम अवतार का दामाद है। पुलिस ने मौके पर छानबीन में एक फोटो भी पाया। जिसमें मनोज असलहा लेकर वर्दी में है। शुक्रवार को पुलिस, पीएसी के जवानों ने पहुंचकर जायजा लिया और जांच किया। बताया जाता है कि मनोज इलाके में लोगों को धमकी भी देता था। एएसपी ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर आरोपित की तलाश की जा रही है। सूत्रों की मानें तो पुलिस ने आरोपित के साले को भी हिरासत में लिया है। नक्सली बनकर धमकी देने

वाले तीन गिरफ्तार

सोनभद्र : नक्सली बनकर ग्राम प्रधान सुंदरी, कनहर सिचाई परियोजना के कार्य में लगी कंपनी के वरिष्ठ अधिकारी को पत्र लिखने व धमकी देते हुए पांच करोड़ रुपये की मांग करने वाले तीन आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर उनका चालान कर दिया। आरोपितों के पास से मोबाइल व सिम कार्ड बरामद किया गया। पुलिस लाइन में मामले का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक सलमानताज पाटिल ने कहा कि गतदिनों पत्र लिखकर कनहर सिचाई परियोजना के संबंध में धमकी दी गई थी। उसके बाद फोन करके भी काम बंद कराने के लिए कहा गया। इसके बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की तो सच्चाई का पता चला। बताया कि सीओ नक्सल अभिनव यादव के नेतृत्व में टीम ने जांच की ओर गुरुवार को सुंदरी गांव के पास से श्याम नारायण, रामजीत गुप्ता व सादिक हुसैन निवासी सुंदरी को गिरफ्तार कर लिया गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस