जासं, सोनभद्र : चोपन ब्लाक के ग्राम पंचायत कोटा में सरकारी धन गमन में जांच रिपोर्ट पर कार्यवाही न होने पर गुरुवार को सदस्यों ने नाराजगी व्यक्त की। सदस्यों ने कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा।

ग्राम पंचायत सदस्यों रामचंद्र, मुस्तफा, कलावती, तारा देवी, अरूण कुमार गुप्ता, कमेश कुमार, त्रिलोकी, सुरेश आदि ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंप कर अवगत कराया कि ग्राम पंचायत कोटा की प्रधान मुरहिया देवी, ग्राम विकास अधिकारी बृजेश सिंह व जिला पंचायत राज अधिकारी आरके भारती कुछ भाजपा नेताओं से मिलीभगत कर एक करोड़ 13 लाख रुपये का घोटाला किया। जांच में भी इसकी पुष्टि हो चुकी है। हैंडपंप मरम्मत, रिबोर, सीसी रोड, खड़ंजा, नाली व सड़क निर्माण, विद्यालय भवन निर्माण व मरम्मत के कार्य में बड़ी अनियमितता की गई। जांच टीम में शामिल परियोजना निदेशक, डीसी मनरेगा व अन्य अधिकारियों ने विधिवत जांच कर रिपोर्ट तीन माह बाद ही जिलाधिकारी को सौंप दी लेकिन अभी तक इस मामले में आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। ग्राम पंचायत सदस्यों ने जांच रिपोर्ट के आधार पर सरकारी धन की रिकवरी कराने व दोषियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराए जाने की मांग की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस