जासं, दुद्धी (सोनभद्र) : वैश्विक महामारी के बीच किसी तरह अपने घर-गांव पहुंचे प्रवासी मजदूरों  द्वारा सरकारी दिशा-निर्देशों का अनुपालन  न करने से ग्रामीणों में दहशत देखी जा रही है। क्षेत्र के दर्जनों गांवों में लौटे प्रवासी मजदूर  बेधड़क न सिर्फ गांव में घूम फिर रहे हैं बल्कि शारीरिक दूरी  एवं मास्क लगाने की अनिवार्यता को भी नहीं मान रहे हैं। इससे परेशान हाल ग्रामीणों ने संबंधित अधिकारियों का ध्यान इस ओर आकृष्ट  कराते हुए ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कारवाई की गुहार लगाई है।

लॉकडाउन दो व तीन में शर्तों के साथ घर वापसी किये प्रवासी मजदूरों को अत्यधिक संख्या क्षेत्र के  बघाडू, दिघुल, टेढ़ा, अमवार, हरपुरा, बैरखड़, बीडर, कटौली, मझौली, भीसुर सहित अन्य गांवों में आ चुके हैं। ऐसे मजदूरों को कम से कम 14 दिन परिवार से अलग रहते हुए घर या गांव के विद्यालय में बनाये गए क्वारंटाइन सेंटर में रहने का इंतजाम किया गया है। लेकिन कुछ लोगों द्वारा इसका मखौल उड़ाया जा रहा है। उनकी लापरवाही कहीं समूचे क्षेत्र के लिए भारी न पड़ जाए। इसके लिए सजग ग्रामीणों ने प्रशासनिक अधिकारियों से उनपर लगाम कसने की गुहार लगाई है।

Edited By: Jagran