जागरण संवाददाता, सोनभद्र : पं दीनदयाल उपाध्याय आश्रम पद्धति स्कूल (गुरमुरा) के छात्रों पर पुलिस द्वारा लाठीचार्ज के विरोध में रविवार को भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआइ) कार्यकर्ताओं ने नगर में जुलूस निकाल कर जिला प्रशासन का पुतला फूंका।

जिलाध्यक्ष विवेक ¨सह पटेल ने कहा कि जनपद में प्रदेश के मुखिया की उपस्थिति में छोटे-छोटे छात्रों द्वारा अपने हक के लिए आवाज बुलंद कर रहे थे, तो उन्हें उसके बदले में पुलिस की लाठियां मिली। श्री पटेल ने कहा कि एनएसयूआइ कार्यकर्ताओं ने आश्रम पद्धति विद्यालय का दौरा भी किया, जहां पर तमाम तरह की समस्याएं सामने आईं। बावजूद इसके यह समस्याएं जिला प्रशासन को नहीं दिख रही है। छात्रों को समय से भोजन नहीं मिलता और मीनू के हिसाब से भोजन कभी नहीं मिलता। आरोप लगाते हुए कहा कि छात्रों को बासी भोजन छात्रों को दिया जाता हैं। शौचालय की बाल्टी में छात्रों को पीने के लिए पानी दिया जाता है। बदबू के कारण वहां एक मिनट खड़ा रहना भी मुश्किल हो रहा था।

जिला महासचिव आकाश वर्मा ने कहा कि विद्यालय प्रशासन द्वारा छात्रों की पीड़ित किया जाता है। पुलिस प्रशासन द्वारा भी छात्रों को लाठियों से पीटा गया। जब जांच करने की बात आई तो पुलिस अधीक्षक ने अपने बयान में कहा कि बच्चों पर लाठी चार्ज नहीं किया। जिलाधिकारी अमित कुमार ने भी विद्यालय का दौरा किया लेकिन, कोई कार्रवाई नहीं की। कहा कि अगर जल्द ही इस मामले को लेकर संबंधितों पर कार्रवाई नहीं की गई तो हम लोग व्यापक आंदोलन करने को बाध्य होंगे। इस मौके पर आशुतोष कान्त मिश्र, ओम यादव, मृदुल मिश्र, हिमांशु पति तिवारी, विनय कुमार गोंड़, रामाज्ञा त्रिपाठी, हरिओम यादव, सतीश पाण्डेय, दीपक यादव, बाबा ठाकुर, सत्यम आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran