मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, सोनभद्र : चुनार से चोपन रेलखंड पर कराए गए विद्युतीकरण कार्य का बुधवार को रेल संरक्षण आयुक्त (सीआरएस) पूर्वी मंडल ने जायजा लिया। रेलवे के कई अधिकारियों के साथ आए सीआरएस ने विधिवत जायजा लेने के बाद संबंधित अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि अक्टूबर माह के अंत तक इस रूट पर इलेक्ट्रिक ट्रेनें नियमित रूप से दौड़ने लगेंगी। चुर्क से अगोरी के बीच अभी तक विद्युतीकरण का कार्य पूर्ण न होने पर थोड़ी नाराजगी जताते हुए शीघ्र काम पूरा कराने के लिए कहा।

रेल संरक्षण आयुक्त अभय कुमार राय अपने दल-बल के साथ लूसा से इलेक्ट्रिक ट्रेन लेकर चोपन के लिए रवाना हुए। हालांकि इस इंजन के साथ एक डीजल इंजन भी था। उन्होंने सोनभद्र स्टेशन तक गहनता से जांच किया। वहीं चोपन पहुंचने के बाद पुन: इसी रूट से वापस हुए। सोनभद्र स्टेशन पर विद्युतीकरण का काम कराने वाले अधिकारियों को समय पर काम पूरा करने के लिए कहा। कहा कि जहां हल्की-फूल्की दिक्कत है उसे शीघ्र दूर किया जाए। इलेक्ट्रिक इंजन चलने से रेलवे को काफी फायदा होगा। प्रदूषण भी कम होगा। पहाड़ी इलाका होने के कारण चुनार से अगोरी के बीच पांच किलोमीटर में जो विद्युतीकरण नहीं हो सका है उसको पूरा कराने के लिए कहा। उनके साथ डीआरएम अमिताभ भी थे। उन्होंने बताया कि लगभग काम पूरा है। जो थोड़ा बचा है उसे भी शीघ्र पूरा कराकर इस रूट पर इलेक्ट्रिक ट्रेन दौड़ाई जाएगी। रेलवे के अधिकारियों के दौरे को लेकर स्टेशन पर साफ-सफाई व्यवस्था मुकम्मल की गई थी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप