जागरण संवाददाता, सोनभद्र : जिले में संक्रमितों की संख्या में बड़ी गिरावट की वजह से ग्रामीणों क्षेत्रों में भी संक्रमितों की संख्या में कमी आई है। इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 24 घंटे में जिले में संक्रमितों की संख्या 85 थी। इस संख्या में ग्रामीण क्षेत्रों के संक्रमितों की तादाद 42 रही।

ग्रामीण क्षेत्र में शामिल बभनी ब्लाक में महज तीन कोरोना पाजिटिव मिले हैं। हालांकि इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है कि ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इसके पहले 15 दिनों से जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या दो से अधिक रही। इसमें सबसे अधिक गांव के लोग पाजिटिव आए हैं। गांव में कोरोना फैलने की वजह भी प्रशासनिक सुस्ती ही है। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. नेम सिंह ने कहा कि सोमवार को कोरोना संक्रमितों की संख्या घटने से तमाम लोग राहत महसूस कर रहे हैं लेकिन बीते दिवसों को देखा जाए तो संख्या में उतार चढ़ाव जारी रहा है। ऐसे में बहुत खुश होने की बजाय हम सभी को ग्रामीण क्षेत्रों में बचाव के उपाय करने की जरूरत है। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. नेम सिंह ने कहा कि गांव में कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए योजना बनाई गई है। आशा कार्यकर्ताओं को कोरोना जांच व उससे बचाव के लिए बरती जाने वाली सावधानी के प्रति जागरूक करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। एएनएम को कोरोना वैक्सीन लगाने का जिम्मा सौंपा गया है।