जासं, ओबरा (सोनभद्र) : निर्माणाधीन ओबरा-सी का निर्माण कर रही कोरियन कम्पनी दुसान पावर सिस्टम के अधीन कार्य कर रही भवानी इंटर प्राइजेज के लगभग 150 मजदूरों ने सोमवार को कार्य बहिष्कार कर दिया। मजदूरों ने बीते दो माह के मजदूरी भुगतान की मांग को लेकर कार्य बंद कर धरना प्रदर्शन किया।

मजदूरों का नेतृत्व कर रहे प्रवीण कुमार मंडल ने बताया कि देश मे लॉक डाउन लागू होने के बाद मार्च माह में कार्य बंद हो गया था। इस दौरान मजदूरों को यही रुकने के लिए कहा गया तथा लॉक डाउन में कार्य बन्द होने के बावजूद पूरी मजदूरी भुगतान करने का आश्वासन कंपनी द्वारा दी गई थी। इसके बावजूद मार्च व अप्रैल माह का मजदूरी भुगतान नही दिया जा रहा है। मंडल ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान सिर्फ तीन बार कंपनी द्वारा राशन दिया गया है। बीते 22 अप्रैल से मजदूरों को कोई खर्चा या राशन नही दिया जा रहा है। मजदूरों को भोजन व्यवस्था करने में काफी कठिनाई उठानी पड़ रही है। वही भवानी इंटर प्राइजेज कंपनी के साइड इंचार्ज रवि रत्नम ने बताया कि लगभग 200 मजदूरों को मार्च माह का वेतन दे दिया गया है अप्रैल माह का वेतन 7 मई तक बनता है। कुछ मजदूर घर जाने के लिए अपना फाइनल हिसाब करने के लिए दबाव बना रहे थे जो संभव नही हो सका। जिससे नाराज कुछ लोग मजदूरो को भड़काकर कार्य बहिष्कार करा दिया। इस दौरान मजदूरों में बबलू मंडल, पंकज मंडल, श्यामल मंडल, विवेक मंडल, उत्पल हल्दर, राजेश हल्दर, रंजीत मंडल, फेकन चौधरी,विजय चौधरी, प्रकाश मंडल, जनार्दन मंडल, वीरेंद्र पासवान, गोपाल पासवान, बृजेश सिंह नांदल, सहित सैकड़ों मजदूर मौजूद रहे।

Edited By: Jagran