जागरण संवाददाता, सोनभद्र : भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जिले के विभिन्न क्षेत्रों में रविवार को जन जागरण अभियान चलाया। इस दौरान लोगों को बताया कि नागरिकता संशोधन कानून किसी की नागरिकता लेने वाला नहीं बल्कि पीड़ितों को नागरिकता देने वाला है। कहा कि कुछ लोग इसको लेकर भ्रम फैला रहे हैं। उसे दूर करने की जरूरत है।

भाजपा अनुसूचित मोर्चा के जिलाध्यक्ष अजीत रावत ने मुस्लिम बस्तियों में जाकर घर-घर जन जागरण का कार्यक्रम किया। कहा कि सीएए सिर्फ नागरिकता देने के लिए है किसी की नागरिकता समाप्त करना इस कानून में नहीं है। पार्टी कार्यकर्ताओं और नागरिकों का फर्ज है कि लोगों के बेवजह फैलाए जा रहे भ्रम और असंतोष को दूर करें और सरकार की जनहित की योजनाओं की जानकारी घर-घर पहुंचाएं। सीएए से यहां के अल्पसंख्यक खासकर मुस्लिम समुदाय का कोई अहित नहीं हैं। इस कानून के तहत पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश में धार्मिक उत्पीड़न के कारण वहां से आए हिदू, सिख, इसाई, जैन और बौद्ध धर्म को मानने वाले शरणार्थियों को भारत की नागरिकता दी जाएगी। कुछ विरोधी ताकतें अपने राजनीतिक लाभ के लिए जनता को गुमराह कर रही हैं। इसलिए किसी के बहकावे में ना आकर सभी लोग इस कानून के समर्थन में अपने आसपास के लोगों को बताएं। इस मौके पर अभिषेक गुप्ता, अमन वर्मा, ताज मोहम्मद, चांद बाबू, तारिक मोहम्मद, डब्लू, इंदू खान, निजामुद्दीन आदि मौजूद थे।

बीजपुर : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ व विश्व हिदू परिषद की अगुवाई में आयोजित कार्यक्रम में सैकड़ों लोगों ने सीएए का समर्थन किया। शुभारंभ बीजपुर बाजार में पदयात्रा निकालकर किया गया। जिसमें हंसवाहिनी पब्लिक स्कूल के बच्चों सहित लोगों ने तिरंगे के साथ भाग लिया। पूरा क्षेत्र भारत माता के जयकारे से गूंजता रहा। समापन बीजपुर बसस्टैंड पर गोष्ठी के रूप में हुआ। आरएसएस के जिला प्रचारक ओमप्रकाश ने सीएए की जानकारी देते हुए इसे राष्ट्रहित में बताया। इस मौके पर सुनील कुमार सिंह, नंदलाल, अनिल त्रिपाठी आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस