मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जासं,सोनभद्र:दैनिक जागरण के कार्यक्रम प्रश्न पहर में रविवार को सम्मानित पाठकों के सवालों का जवाब देने के लिए राब‌र्ट्सगंज स्थित कार्यालय में मौजूद रहे जिला समाज कल्याण अधिकारी कृष्णानंद त्रिपाठी। दोपहर 12 बजे से एक बजे तक उन्होंने टेलीफोन पर लोगों की समस्याओं का समाधान किया। कुछ को जरूरी सुझाव दिया तो कुछ के रजिस्ट्रेशन नंबर आदि नोट कर शीघ्र समस्या का समाधान कराने का आश्वासन भी दिया। छात्रवृत्ति और वृद्धा पेंशन के बारे में विस्तार से बताया। कहा कि इसमें कोई लक्ष्य नहीं होता। जो भी आवेदन करेंगे अगर वह पात्र हैं तो योजना का लाभ दिया जाएगा। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के बारे में भी विस्तार से बताया। समाज कल्याण अधिकारी व सम्मानित पाठकों के सवाल-जवाब के कुछ अंश..। सवाल : समाज कल्याण विभाग से क्या-क्या योजनाएं चलाई जा रही हैं।

जवाब : वर्तमान समय में छात्रवृत्ति, शुल्क प्रतिपूर्ति, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना, वृद्धा पेंशन, गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वालों की बेटियों की शादी के लिए अनुदान योजना सहित कई तरह की योजनाएं चल रही हैं। सवाल : छात्रवृत्ति के लिए क्या जरूरी है, कहां आवेदन करना होगा।

जवाब : अगर आपको छात्रवृत्ति लेनी है तो अपने शैक्षिक प्रमाणपत्र की प्रति में से देखकर सही-सही ऑनलाइन आवेदन कराना होगा। उसके साथ आय प्रमाणपत्र लगाना होगा। सामान्य वर्ग के लिए दो लाख रुपये तक और अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग के लिए ढाई लाख रुपये तक का आय लगाया जा सकता है। आवेदन किसी भी सहज जन सेवा केंद्र से कराया जा सकता है। उसकी हार्ड कॉपी अपने विद्यालय में जमा करें। सवाल : वृद्धा पेंशन के लिए क्या मानक हैं, कैसे मिलेगी।

जवाब : कोई भी व्यक्ति जो 60 साल से अधिक की उम्र का है वह आवेदन कर सकता है। हां शहरी क्षेत्र के लिए 56460 रुपये और ग्रामीण क्षेत्र में 46080 रुपये तक का आय प्रमाणपत्र होना चाहिए। साथ में उम्र का प्रमाणपत्र भी होना जरूरी है। बैंक पासबुक की फोटो कॉपी के साथ आनलाइन आवेदन करें। इसका आवेदन भी किसी सहज जन सेवा केंद्र पर ही होगा। सवाल : वृद्धा पेंशन में कितनी धनराशि मिलती है।

जवाब : वर्तमान समय में इस पेंशन योजना के तहत पांच सौ रुपये प्रति माह दी जाती है। तीन-तीन माह पर 1500 रुपये एक साथ लाभार्थी के खाते में दी जाती है। समय-समय पर पात्रता का सत्यापन भी कराया जाता है। सवाल : मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना का लाभ कैसे लिया जाए।

जवाब : मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत किसी भी वर्ग के वर-कन्या की शादी करायी जा सकती है। इसके लिए कन्या व वर की दो-दो फोटो, दोनों का आधार कार्ड, कन्या का जाति प्रमाणपत्र, उसका निवास प्रमाणपत्र, कन्या या उसके अभिभावक का आय प्रमाणपत्र, कन्या के बैंक पासबुक की फोटो कापी, दोनों के उम्र का प्रमाणपत्र, वार्षिक आय दो लाख रुपये की नीचे होनी चाहिए। इसके साथ समाज कल्याण विभाग में आवेदन किया जा सकता है। सवाल : मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना में क्या मिलता है।

जवाब : इस योजना के तहत जो भी मिलता है वह कन्या को मिलता है। कुल 51 हजार रुपये प्रति लाभार्थी शासन से मिलता है। इसमें 35 हजार रुपये कन्या के खाते में, दस हजार रुपये की सामग्री दी जाती है और छह हजार रुपये आयोजन में खर्च किए जाते हैं।

.............. इन क्षेत्रों से लोगों ने किया फोन

घोरावल से इंद्रदेव, दुद्धी से प्रेमचंद्र गुप्ता, चोपन से नन्हे लाल श्रीवास्तव, विचपई से शेख निजामुद्दीन, अनपरा से सुशीला सिंह, विकास नगर से प्रेमशंकर श्रीवास्तव, पिपरी से सुनील कुमार गुप्ता, पड़री म्योरपुर से शिवनारायण यादव, सलखन से उमेश, गुरमा से अजीत कुमार, सलखन से विद्याशंकर, चतरा से सुरेश कुमार, आमडीह से चंद्रप्रकाश, तुर्रा से श्यामलाल, चिल्काडाड़ से घनश्यामलाल, ओबरा से रोहित शर्मा, घोरावल से श्रीपति त्रिपाठी, रजखड़ से प्रेमचंद्र, दीवा घोरावल से मेवालाल, शिवपुर रामगढ़ से गुलाब देव पांडेय, पिपरी से संजय तिवारी, सांगोबांध से राजेश कुमार, रेणुकूट से मनीष कुमार ने फोन कर समाज कल्याण अधिकारी से बात किया और समस्याओं के बारे में बताया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप