सीतापुर : बकाया मजदूरी भुगतान, आवास की मजदूरी व काम न मिलने को लेकर विकास भवन पहुंचे मनरेगा मजदूर कई घंटे तक डीसी कार्यालय के बाहर बैठे रहे। मांगों को लेकर प्रदर्शन किया। डीसी के न आने से भड़के मजदूरों ने नारेबाजी भी की। दरअसल, विभिन्न मांगों को लेकर संगतिन किसान मजदूर संगठन की रिचा सिंह, सुरबाला व रीना पांडेय की अगुवाई में मिश्रिख, पिसावां, महोली, मछरेहटा, हरगांव, ऐलिया व गोंदलामऊ के मनरेगा मजदूर विकास भवन पहुंचे थे। बकाया मजदूरी व आवास मजदूरी की समस्या सीडीओ से बताते, इससे पहले ही सीडीओ ऐलिया चले गए। डीसी मनरेगा भी चले गए। सीडीओ कार्यालय में शिकायती पत्र रिसीव कराने के बाद मजदूर डीसी का इंतजार करने लगे। डीसी कार्यालय व बाहर बरामदे में बैठ गए। काफी देर इंतजार के बाद भी जब डीसी मनरेगा नहीं आए, तो मजदूरों ने नारेबाजी भी की। मजदूरों ने कहा कि, अगर समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो आंदोलन किया जाएगा।

इन समस्याओं के समाधान की आस में आए मजदूर

मजदूरों ने बताया कि, आवास की मजदूरी किस्त भुगतान के साथ ही आती है। लोगों के आवास की किस्तें तो आ गईं, लेकिन मजदूरी का भुगतान नहीं हुआ। वहीं मनरेगा की बकाया मजदूरी का भुगतान भी नहीं हो पा रहा है। काम मिलने में भी दिक्कतें आ रही हैं। एलिया ब्लाक के हेमपुर ग्राम पंचायत में मजदूरों को काम नहीं मिल रहा है। यहां के मजदूर बेरोजगारी भत्ते की मांग कर रहे हैं। मछरेहटा की किन्हौटी ग्राम पंचायत के मजदूर भी बेरोजगारी भत्ता मांग कर रहे हैं।

बबुर्दीपुर में अपात्रों को दिए गए आवास

पिसावां ब्लाक की ग्राम सभा बबुर्दीपुर से आए मजदूरों ने अपात्रों को प्रधानमंत्री आवास दिए जाने की बात कही। सीडीओ कार्यालय में दी गई शिकायत के साथ अपात्रों की सूची भी दी। मामले की जांच कराकर कार्रवाई की मांग की गई।

Edited By: Jagran