सीतापुर : लखनऊ मार्ग पर अनियंत्रित बस की टक्कर से बाइक सवार बालिका की दुर्घटनास्थल पर ही मौत हो गई। बालिका अपने ननिहाल से घर लौट रही थी। बाइक चला रहे युवक को भी गंभीर चोटें आई हैं, जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं, घटना की सूचना पर पहुंचे परिवारजन व ग्रामीणों ने रोड जाम कर दी।

ग्रामीणों ने सड़क किनारे शव रखकर प्रदर्शन किया। एसडीएम मिथिलेश त्रिपाठी, सीओ रविशंकर प्रसाद, कोतवाल मुकुल वर्मा ने ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया। एएसपी एनपी सिंह भी मौके पर पहुंचे। अधिकारियों के समझाने पर करीब डेढ़ घंटे बाद ग्रामीणों ने जाम खत्म किया।

उनेरा गांव निवासी 10 वर्षीय आकांक्षा अपने पिता रामसजीवन व बड़ी बहन शिवानी के साथ बाराबंकी जिले में देवा कोतवाली के हरई गांव स्थित ननिहाल गई थी। सुबह वह अपने मामा के बेटे सत्यम के साथ घर लौट रही थी। लखनऊ मार्ग पर स्थित संदना पेट्रेाल पंप के पास महमूदाबाद की ओर से रही निजी बस ने बाइक को टक्कर मार दी। बाइक चला रहा सत्यम दूर जा गिरा और आकांक्षा बस के पहिए के नीचे आ गई।

अज्ञात वाहन की टक्कर से बालक की मौत :

बुधवार देर रात रामलीला देखने जा रहे 10 वर्षीय बालक को अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी। वाहन की टक्कर से बालक की मौके पर ही मौत हो गई। मुहल्ला बहादुरपुर निवासी 10 वर्षीय कृष्ण पुत्र स्व. हरेकृष्णा बुधवार देर रात परिवारजन के साथ रामलीला देखने जा रहा था। सीतापुर-लखनऊ नेशनल हाईवे पर गांधी विद्यालय के पास सीतापुर की ओर से आ रहे एक तेज रफ्तार वाहन ने उसे टक्कर मार दी। बालक की मौके पर ही मौत हो गई।

Edited By: Jagran