सिद्धार्थनगर : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम को लेकर तैयारियां तेज हो गई हैं। गुरुवार को दिल्ली से एसपीजी टीम पहुंची। सुरक्षा के दृष्टिकोण से सभी बिदुओं की जांच की। कार्यक्रम स्थल के पास कितने आवासीय मकान और सरकारी भवन हैं, इसकी सूची तैयार की है। यहां कितने लोग रहते हैं, इनका ब्योरा भी अपने रिकार्ड में रखा।

बीएसए मैदान के उत्तरी छोर पर स्थित कालोनी में करीब 25 मकान बने हैं। एसपीजी के जवान सुबह ही मैदान में पहुंच गए। सुरक्षा से जुड़े सभी बिदुओं को देखा। इसपर अपनी रिपोर्ट तैयार की। कालोनी के सभी घरों में गए। मुखिया को बुलाकर पूछताछ की। घर में कितने सदस्य है, सभी की पहचान की। कितनी महिला व पुरुष रहते हैं, इनकी संख्या में डायरी में लिखा। बाहर से आने वाले मेहमान के संबंध में पूरी जानकारी एकत्र किया। मुखिया का आधार कार्ड भी मांग कर देखा। नगर के सभी होटल व ढाबा की भी जांच की। बाहर से आने वाले लोगों पर विशेष निगाह रखने के लिए सदर थाना पुलिस को निर्देशित किया है। पुलिस अधीक्षक राम अभिलाष त्रिपाठी ने बताया कि पीएम के कार्यक्रम को लेकर पुलिस अलर्ट है। सुरक्षा के सभी बिदुओं की जांच की जा रही है। कार्यक्रम स्थल के पास स्थित सभी आवास व उनमें रहने वालों की पहचान की जा रही है। शोहरतगढ़ के परसोइया गांव पर लगी खुफिया नजर

सिद्धार्थनगर : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम को लेकर सुरक्षा एजेंसिया अलर्ट हैं। सुरक्षा एजेंसियों की निगाह नेपाल सीमा पर लगी है। इसके साथ ही शोहरतगढ़ थाना क्षेत्र के परसोइया गांव की गतिविधियों पर भी नजर टिकी है। आठ जुलाई को बीएसएफ पांचवी बटालियन के जवानों इस गांव के नरेश साहनी को पाकिस्तान बार्डर पर पकड़ा गया था। बीएसएफ के जवानों ने उसे पकड़ने के बाद पंजाब के घुरिडा थाना पुलिस के सुपुर्द कर दिया है। उसके पाक सीमा के पास पकड़े जाने के बाद खुफिया एजेंसी अलर्ट हो गई। उससे कई चक्रों में पूछताछ की गई। वहां की पुलिस को कई अहम जानकारियां मिली। इसके बाद सतर्कता बढ़ा दी गई है। नेपाल सीमा पर भी सतर्कता बढ़ाई गई। एसएसबी व पुलिस की संयुक्त टीम गश्त कर रही हैं। नेपाल की ओर से आने वाले लोगों की सघन जांच की जा रही है। एएसपी सुरेश चंद्र रावत ने बताया सुरक्षा को लेकर सीमा पर चौकसी बढ़ा दी गई है। संदिग्ध व्यक्ति व वस्तु की जांच की जा रही है। शोहरतगढ़ क्षेत्र में विशेष सतर्कता बरती जा रही है।