सिद्धार्थनगर : मकर संक्रांति का त्योहार तहसील क्षेत्र में शनिवार को धूमधाम से मनाया गया। राप्ती नदी के विभिन्न तटों व भरत तीर्थ भारतभारी के प्राचीन सरोवर में भक्तों ने स्नान करने के बाद मंदिरों में परंपरा के अनुसार खिचड़ी चढ़ाकर दान दिया। प्रसाद भी वितरित किया गया।

भारतभारी के प्रसिद्ध सरोवर में कड़ाके की ठंड के बाद भी सुबह चार बजे से ही भक्तों के स्नान का क्रम प्रारंभ हुआ। स्नान के बाद लोगों ने भगवान शिव को खिचड़ी चढ़ाकर सुख और समृद्धि की कामना की। संकल्प करवाकर खिचड़ी का दान भी किया। मंदिर परिक्षेत्र में खिचड़ी मेले के मद्देनजर सफाई व अलाव का विशेष इंतजाम किया गया था। प्रसाद के रूप में खिचड़ी बनवाई गई थी। स्नान- दान के बाद लगभग एक हजार से अधिक लोगों ने प्रसाद के रूप में खिचड़ी ग्रहण कर स्वयं को कृतार्थ किया। पूरे दिन मेले जैसा माहौल देखा गया। बाबा कृष्णमणि दास, पूर्व जिलाध्यक्ष भाजपा नरेन्द्र मणि त्रिपाठी, अजय कुमार पाण्डेय, अजय श्रीवास्तव, राम आशीष पाठक, बतासा बाबा,राधेरमण अग्रहरि, अधिवक्ता रमेश पाण्डेय, रमेश चंद्र श्रीवास्तव, त्रिलोकीनाथ दुबे, आनन्द आदि मौजूद रहे। भनवापुर प्रतिनिधि के अनुसार ग्राम पंचायत दर्शनिया में समाजसेवी मयाराम अग्रहरि की ओर से 101 साघु-संतों को खिचड़ी भोज कराकर कंबल, गिलास, च्यवनप्राश और दक्षिणा प्रदान की गई। गिरधरपुर श्रीरामजानकी मंदिर के महंत महामंडलेश्वर बाबा किशोर दास महाराज ने अपने अनुयायियों के साथ भजन कीर्तन किया। ओमप्रकाश, कृष्णचंद्र, दिनेश चंद्र, विकास, गुरु प्रसाद वीरेंद्र, रामालाल कसौधन, ठाकुर प्रसाद आदि मौजूद रहे। खिचड़ी भोज में पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री दी बधाई

सिद्धार्थनगर : मकर संक्रांति के अवसर पर चित्रगुप्त सेवा समिति बांसी की तरफ से पावर हाउस परिसर स्थित शिव मंदिर पर खिचड़ी भोज का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने पहुंचकर प्रसाद ग्रहण किया। लोगों को मकर संक्रांति की बधाई दी।

उन्होंने कहा हमारे पर्व व त्योहार ही सनातन धर्म को जीवंत किए हुए हैं। हर सनातनी को चाहिए कि वह अपने पर्व व त्योहार को पूरे विधि-विधान व हंसी खुशी मनाते रहें । चित्रगुप्त सेवा समिति बांसी के अध्यक्ष धर्मेंद्र श्रीवास्तव, महामंत्री ऋषि श्रीवास्तव, अजय कुमार श्रीवास्तव, प्रवीन कुमार श्रीवास्तव, राजेश कुमार श्रीवास्तव, गजेंद्र श्रीवास्तव, राकेश कुमार श्रीवास्तव, नवीन कुमार बख्शी, वीरेंद्र कुमार श्रीवास्तव, गोपाल मोदनवाल, जगदंबा सिंह आदि मौजूद रहे। समरसता का प्रतीक है भोज्य पदार्थ खिचड़ी सिद्धार्थनगर : पुरानी नौगढ़ कस्बा के बमबम बाबा मंदिर तालाब परिसर में शनिवार को समरसता भोज का आयोजन हुआ। मकर संक्रांति पर प्रसाद के रूप में खिचड़ी परोसा गया। जल संरक्षण के लिए तालाब में कछुआ, मछली व बत्तख छोड़ा गया।

नगर पालिका के अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने कहा हिदू धर्म में मकर संक्रांति का महत्व है। आज से सूर्य दक्षिण दिशा की ओर रूख करेंगे। मकरसंक्रांति पर भोज्य पदार्थ के रूप में खिचड़ी का सेवन करने की परंपरा है। खिचड़ी सामाजिक समरसता का प्रतीक है। यह समाज को एक डोर में बांधने का संदेश देता है। तालाब का सुंदरीकरण व जीर्णोद्वार करा दिया गया है। यहां पर बच्चे व बुजुर्ग आकर मनोरंजन कर सकते हैं। अधिवक्ता नीतीश पांडेय ने कहा मकरसंक्रांति पर सहभोज का आयोजन से समाज में सार्थक संदेश जाता है। सभासद अतहर हुसैन, अमित सिंह, सूरज, संतोष चौधरी, श्रवण, पंकज सिद्धार्थ, विकास पांडेय, मनीष जायसवाल, सिद्धार्थ गौतम, कैलाश त्रिपाठी, मुन्ना बजाज आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran