सिद्धार्थनगर : सुरक्षा के साथ सेवा में भी पुलिस अपनी अलग पहचान बना रही है। इसका उदाहरण सोमवार को त्रिलोकपुर थाने पर दिखाई दिया। यहां एक महिला अपनी फरियाद लेकर थाने पर पहुंची जिसको थोड़ी चोट भी लगी थी। महिला डेस्क अधिकारी सुजाता राव ने खुद ही पहले महिला का प्राथमिक उपचार किया और फिर फरियाद सुनते हुए उसके मामले को निस्तारित कराया।

थानांतर्गत कटेरिया बाबू निवासी पुष्पा देवी का घर में पारिवारिक विवाद हो गया। कहासुनी के दौरान उसके हाथ में चोट लग गई। घायल अवस्था में जब वह अपनी पीड़ा लेकर थाने पर पहुंची तो प्रभारी निरीक्षक रणधीर कुमार मिश्रा के निर्देशन में महिला डेस्क अधिकारी ने सर्वप्रथम उसके हाथ पर लगी चोट को देखा और तुरंत मेडिकल सामग्री लेकर पहले उपचार किया। इसके बाद महिला ने अपनी पीड़ा सुनाई। जिसके बाद महिला के स्वजन को बुलाया गया और मामले का निस्तारण कराया गया। चेतावनी दी गई कि अगर आगे महिला को परेशान किया गया तो फिर पुलिस सख्ती से निपटेगी। पुलिस की इस पहल की हर तरफ प्रशंसा की जा रही है। अज्ञात वाहन की ठोकर से युवक की मौत सिद्धार्थनगर : सोमवार को खुनुवा मार्ग पर गनचौरा गांव के पास पैदल खुनुवा की तरफ जा रहे युवक को अज्ञात वाहन ने ठोकर मार दी। जिससे युवक की मौत हो गई है। युवक का नाम कस्बे के आंबेडकर नगर निवासी बहाऊ उर्फ शकील पुत्र उमर है। युवक आधे घंटे तक सड़क पर पड़ा रहा। स्थानीय लोगों ने उसे सीएचसी पहुंचाया। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।इस संबंध में एसओ आरबी सिंह ने बताया कि कार्रवाई की जा रही है।

Edited By: Jagran