सिद्धार्थनगर : विकास खंड इटवा के ग्राम पंचायत बजराभारी में बुधवार को खुली बैठक में मतदान कराकर कोटेदार का चयन किया गया। ग्रामीणों को लाइन में लगवाकर प्रस्ताव पारित किया गया। गांव में कोटेदार का चयन करने के लिए पहुंचे अधिकारियों ने कहा कि ग्रामीण जिस तरह चाहें सहमति बना कर कोटेदार का चयन कर सकते हैं। कोटा प्राप्त करने के लिए दो लोग मैदान में थे। गांव की दीपा के पक्ष में अधिक लोग सहमत हुए जिसके बाद कोटा उनके नाम हो गया।

बुधवार की दोपहर बजराभारी के प्राथमिक विद्यालय पर कोटेदार के चयन के लिए खुली बैठक कराने पहुंचे एडीओ पंचायत संजय कुमार मिश्रा व सचिव मो. मुस्तफा की मौजूदगी में बने दो रजिस्टरों पर ग्रामीणों ने हस्ताक्षर व अंगूठा लगाकर कोटेदार के लिए अपना मत व्यक्त किया। सूची में कुल 796 मतदाता शामिल रहे। अपराह्न लगभग दो बजे एडीओ पंचायत संजय कुमार मिश्रा व जेइ सुरेंद्र नाथ मिश्रा, सचिव मो. मुस्तफा प्रभारी निरीक्षण ढे़बरूआ,थानाध्यक्ष मिश्रौलिया, थानाध्यक्ष त्रिलोकपुर, गोल्हौरा चौकी इंचार्ज शमशेर बहादुर, सांसद प्रतिनिधि बालमुकुंद पांडेय किशुन दूबे की मौजूदगी में हस्ताक्षर व अंगूठा लगाकर मतदान का क्रम चला। तीन बजे तक कुल 796 मत पड़े इसकी गिनती में एक दावेदार को 425 तथा दूसरे को 371 मत मिला। इस पर उक्त अधिकारियों की मौजूदगी में 425 मत वाले के नाम का प्रस्ताव लिखा गया। दीपा पत्नी सोने के पक्ष में 425 व दूसरी नंदनी पत्नी महेन्द्र के पक्ष में 371 लोगों ने हस्ताक्षर किया। 425 लोगों की सहमति मिलने पर दीपा के नाम कोटा देने का प्रस्ताव सर्वसम्मति से पास हुआ। मौके पर प्रधान संजू देवी, अवधेश कुमार श्रीवास्तव, प्रेम नरायण,राम ¨सह,उदय प्रताप गौतम, करणजीत ¨सह यादव, अवधेश कुमार यादव सहित अन्य मौजूद रहे।

Posted By: Jagran