सिद्धार्थनगर: सत्तापक्ष के लोगों ने बजट को विकास को नई दिशा देने वाला तो विपक्षियों ने हर वर्ग को निराश करने वाला करार दिया। सत्ता पक्ष के लोगों का कहना है कि इस बजट में सभी वर्ग के लोगों का ख्याल रखा गया है, इससे निश्चित ही प्रदेश के विकास को नई दिशा मिलेगी। निवेशकों की संख्या बढे़गी इससे बेरोजगारों को रोजगार मिलेगा। विपक्ष के लोगों ने बजट को पूरी तरह से निराशा वाला बताया। जिसमें महिलाओं, बेरोजगारों व किसानों के हितों का तनिक भी ख्याल नहीं रखा गया है।

.........

योगी सरकार का चौथा बजट प्रदेश के युवाओं, शिक्षकों, कौशल संवर्धन तथा उनके रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के साथ ही साथ जनता को मूलभूत सुविधाएं और त्वरित न्याय उपलब्ध कराने के प्रति समर्पित बजट है। पहली बार प्रदेश सरकार ने युवाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए मुख्यमंत्री शिक्षा प्रोत्साहन योजना और युवा उद्यमिता विकास अभियान प्रारंभ करने का निर्णय लिया है। जिसके अंतर्गत युवाओं को रोजगार हेतु अप्रेंटिस के दौरान ढाई हजार रुपए प्रतिमाह मिलेंगे। जिले में युवा हब की स्थापना योगी सरकार का ऐतिहासिक निर्णय है।

डा. सतीश द्विवेदी, विधायक व बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार उ.प्र. सरकार

------------------------------------

प्रदेश की योगी सरकार ने अब तक चार बजट पेश किए हैं। परंतु कोई भी बजट जनता की उम्मीदों से भरा नहीं रहा है। किसानों, नौजवानों, महिलाओं को इस बजट से निराशा मिली है। योगी सरकार पूर्वांचल एक्सप्रेस वे बनवाने का दावा करती है, जबकि इसकी शुरूआत तो मुख्यमंत्री अखिलेश यादव नेतृत्व वाली सपा सरकार ने की थी। इस सरकार ने सिर्फ इस एक्सप्रेस वे का नाम बदला और जबरदस्ती काट कटिग की है। बजट में जो दावे किए गए हैं वह झूठ का पुलिदा है। प्रदेश वासियों को धोखा देने वाला बजट है। बजट से न व्यवसाइयों को फायदा होगा, न ही उद्योग को। किसान, गरीब, मजदूरों के लिए भी कुछ नहीं है। मंहगाई की मार झेल रही गृहणी भी इस बजट से हताश हैं। सिद्धार्थ यूनिवर्सिटी को भी इस बजट में कुछ नहीं दिया गया है।

माता प्रसाद पाण्डेय, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष

--------------------------------------

बजट में सरकार द्वारा सभी वर्ग का ख्याल रखा गया है। सबके लिए बेहतर इंतजाम का प्राविधान किया गया है। इससे विपक्षी भी खुश है। बजट में प्राथमिक से लेकर उच्च शिक्षा तक विशेष ध्यान दिया गया है। समग्र शिक्षा अभियान के लिए 18363 करोड़ रुपए की बड़ी धनराशि भी आवंटित की गई है। गोरखपुर में आयुष विश्वविद्यालय तथा रामगढ़ ताल में वाटर स्पो‌र्ट्स से संबंधित योजना की स्थापना, फ़र्टिलाइ•ार एम्स और एक्सप्रेस-वे पूर्वांचल के लिए एक और मील का पत्थर साबित होगा। यह बजट प्रदेश के लोगों को आत्मनिर्भर बनाने का काम करेगा। इससे देश के आर्थिक विकास को भी गति मिलेगी।

श्यामधनी राही, विधायक, सदर

-----------------------------------------

चिकित्सा, शिक्षा, किसान व ग्रामीण, श्रमिक, लघु व सीमांत किसानों के लिए इंतजाम किया गया है। इतना ही नहीं सिचाई, बिजली के लिए भी पर्याप्त धन का प्राविधान किया गया है। इससे निश्चित ही व्यवस्थाएं बेहतर होंगी। इससे प्रदेश के लोगों की उम्मीदें पूरी होने के साथ ही प्रदेश के विकास को नई दिशा मिलेगी। निर्माण के लिए भी सरकार द्वारा पर्याप्त धन दिया गया है। इस तरह का बजट अभी तक किसी भी सरकार द्वारा प्रस्तुत नहीं किया गया है। प्रदेश के विकास के साथ पूर्वांचल के विकास का भी इंतजाम किया है। शिक्षा, स्वास्थ्य व स्वास्थ्य चिकित्सा के क्षेत्र में नए आयाम स्थापित करने का प्रयास बजट के माध्यम से किया गया है।

चौधरी अमर सिंह, विधायक, शोहरतगढ़,

----------------------------------------------

सरकार के बजट में बेरोजगारों के लिए कुछ भी नहीं किया गया है। देश व देश में लगातार बेरोजगारी बढ़ रही है लेकिन सरकार द्वारा इस तरफ जरा भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है। प्रदेश सरकार का यह बजट पूरी तरह से छलावा है। इसमें किसी भी वर्ग का ख्याल नहीं रखा गया है। बजट में व्यापारियों को हाशिए पर कर दिया गया है। उनके हितों तक तनिक भी ख्याल नहीं रखा गया है। बजट आम लोगों के लिए पूरी तरह से छलावा साबित होगा। इस तरह का बजट पेश कर सरकार ने प्रदेश के लोगों को छलने का काम किया है। इससे देश के किसी भी वर्ग का भला नहीं होगा।

जमील सिद्दीकी, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस