सिद्धार्थनगर : शुक्रवार कस्बे के हल्लौर में सीएए और एनपीआर के विरोध में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। विरोध पत्रक पर लोगों ने अपने हस्ताक्षर बनाया। इसे सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को भेजा जाएगा।

सपा नेता रामकुमार उर्फ चिंकू यादव ने कहा कि भाजपा सरकार का विकास से कोई वास्ता नहीं है। यह पार्टी देश की एकता और अखंडता के लिए खतरा है, क्योंकि यह लोग धर्म की राजनीति करके एक समुदाय को दूसरे समुदाय से लड़ाने की फिराक में रहते है। देश मंहगाई से परेशान है। विकास दर नीचे खिसकती देख जनता का ध्यान हटाने के लिए सीएए, एनपीआर में उलझा दिया। बेगुनाह नौजवानों पर लाठियां बरसाई गई। प्रशासन का इस्तेमाल पार्टी मशीनरी के रूप में किया जा रहा है। यह कानून अगर देश हित में है तो भाजपाइयों को इसके प्रचार प्रसार व रैली की जरूरत क्यों पड़ रही है। भाजपा का सफाया हर प्रदेश से होता जा रहा है। अब वह जनता को दिग्भ्रमित करने के लिए सीएए पर जागरूकता की बात कर रही है। मौलाना अब्दुल कयूम फाउंडेशन अध्यक्ष बदरे आलम ने कहा कि इस कानून के विरोध में शाहीनबाग में धरना दे रही महिलाओं का सलाम है, जो इस कानून के खिलाफत की आवाज बुलंद कर रही हैं। धारा 144 भाजपाइयों के लिए नहीं तो विपक्ष के लिए क्यों है। संचालन मेंहदी रिजवी एडवोकेट ने किया। सत्यनारायण यादव, जमाल अहमद, पुत्तन, बहरैची प्रसाद प्रेमी, अतीकुर्रहमान, तोताराम वर्मा, शाहजहां बेगम, रघुनंदन पांडेय, वजीर हसन, सोनू पांडेय, छोटू पांडेय, ओमप्रकाश चौधरी, विजय अग्रहरि, दुर्गा प्रसाद, अनीश खान, बद्री गुप्ता आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस