श्रावस्ती : विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है। भिनगा से पूर्व सांसद पदमसेन चौधरी व श्रावस्ती विधानसभा से विधायक रामफेरन पांडेय को दूसरी बार मौका दिया है। भाजपा का टिकट जारी होने के बाद सियासी गलियारों में समीकरण पर चर्चा तेज हो गई है।

बहराइच जिले के मूल निवासी पदमसेन चौधरी भाजपा से सांसद रह चुके हैं। इससे पूर्व इनके पिता स्वर्गीय रुद्रसेन चौधरी भी भाजपा से सांसद थे। पुराने भाजपाई परिवार पर भरोसा जताते हुए भाजपा ने टिकट की घोषणा की है। इसी प्रकार श्रावस्ती विधानसभा में वर्ष 2017 के चुनाव में कमल खिलाने वाले रामफेरन पांडेय को दूसरी बार भी इस सीट से उम्मीदवार बनाया गया है। भिनगा में पिछड़ा व श्रावस्ती में भाजपा के ब्राह्मण कार्ड की चर्चा हर ओर हो रही है। भाजपा जिलाध्यक्ष महेश मिश्रा ने बताया कि प्रदेश नेतृत्व की ओर से जिले की दोनों सीटों पर उम्मीदवार की घोषणा कर दी गई है। पदमसेन चौधरी को 289 भिनगा विधानसभा व रामफेरन पांडेय को 290 श्रावस्ती विधानसभा से उम्मीदवार बनाया गया है।

कांग्रेस ने श्रावस्ती में बदला जिलाध्यक्ष

इकौना (श्रावस्ती) : अखिल भारतीय कांग्रेस पार्टी ने चुनावी दौर में जिलाध्यक्ष बदल दिया है। वसीउल्ला चौधरी को श्रावस्ती का नया जिलाध्यक्ष बनाया गया है। विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस पार्टी की ओर से नए अध्यक्ष की नियुक्ति को अचरज भरी नजर से देखा जा रहा है। जिला कार्यालय पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए नवनियुक्त जिलाध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश की जनता जाति व धर्म की राजनीति करने वाले दलों से ऊब चुकी है। उन्होंने कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि डोर-टू-डोर संपर्क कर कांग्रेस प्रत्याशी की जीत सुनिश्चित करने की मुहिम में जुट जाएं। विद्यामणि त्रिपाठी, विजय मिश्रा, बृजकिशोर शुक्ला, संजीव नैयर, भिनगा विधानसभा की प्रत्याशी वंदना शर्मा, श्रावस्ती विधानसभा की ज्योति वर्मा मौजूद रहीं।

Edited By: Jagran