शामली, जागरण टीम। चुनावी मौसम में इंटरनेट मीडिया पर पुराने वीडियो वायरल करने का दौर भी जोर पकड़ रहा है। रालोद अध्यक्ष जयंत सिंह के दो पुराने वीडियो वायरल हो रहे हैं। एक वीडियो में वह कह रहे हैं कि मैंने जाटों का ठेका नहीं लिया है, जबकि दूसरी वीडियो में थानाभवन में किसी चेयरमैन को टिकट देने की बात चल रही है।

पहले वीडियो में चौधरी जयंत सिंह कह रहे है कि जाट वोटर क्या करेगा या जाट का क्या मन है माफ कीजिए, ये ठेका तो मैंने कभी लिया नहीं था। यह वीडियो 2019 में लोकसभा चुनाव के दौरान शामली के बनत का बताया जा रहा है। दूसरे वीडियो में थानाभवन से जावेद और चेयरमैन को टिकट देने की बात चल रही है। इसमें एक व्यक्ति कह रहा है कि हमारी मंशा है कि टिकट मुस्लिम को दे दो। इनकी तो हिम्मत भी नहीं पड़ेगी। इस पर जयंत ने जवाब दिया कि टिकट तो मैं आपको ही दूंगा। यह वीडियो वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव के दौरान का बताया जा रहा है। उस समय थानाभवन से राव जावेद को रालोद ने प्रत्याशी बनाया था।

इनका कहना है..

रालोद किसान, मजूदरों की बात करती है। 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान किसी ने जाति के संबंध में सवाल किया था तो जयंत चौधरी ने कहा कि किसान, मजदूर की बात करते हैं। किसी जाति की नहीं, लेकिन दुष्प्रचार करने वालों ने वीडियो से एक हिस्सा काटकर वायरल किया है। दूसरी वीडियो भी 2017 विधानसभा चुनाव की प्रतीत होती है। इसे भी आधी काटकर छेड़छाड़ कर दुष्प्रचार के लिए विपक्षी पार्टियां इस्तेमाल कर रही हैं।

- मुकेश सैनी, जिलाध्यक्ष रालोद। चुनाव में गड़बड़ी की तो होगी कार्रवाई

शामली, जागरण टीम। एडीएम ने पुलिस फोर्स के साथ शहर के कई मोहल्लों और ग्रामीण क्षेत्रों में फ्लैग मार्च निकाला। लोगों से भयमुक्त होकर वोट करने की अपील की और चुनाव में किसी भी तरह की गड़बड़ी होने पर कार्रवाई की चेतावनी भी दी है।

रविवार को एडीएम संतोष कुमार सिंह ने कोतवाली पुलिस और एक कंपनी बीएसएफ के साथ फ्लैग मार्च किया। कोतवाली प्रभारी यशपाल सिंह ने बताया कि आगामी विधानसभा चुनाव के चलते शहर के मोहल्ला काजीवाड़ा, आजाद चौक, नौकुआं रोड, वीवी इंटर कालेज रोड, फव्वारा चौक के साथ ही कई गांव में फ्लैग मार्च किया। इस दौरान एडीएम ने लोगों से कहा कि चुनावों को शांतिपूर्वक व निष्पक्षता कराने में आप सभी को सहयोग करना होगा। किसी ने भी चुनाव में गड़बड़ी की तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि भयमुक्त होकर सभी मतदान करने के लिए पहुंचे। यदि कोई मतदान अपने पक्ष में कराने का दबाव बनाता है तो ऐसे लोगों की सूचना तुरंत पुलिस-प्रशासन को दें। कोतवाल ने बताया कि शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में फ्लैग मार्च निकाला गया है, जिससे लोग अपने आप को निर्भय महसूस कर सके। उन्होंने कहा कि जिले में हर एंट्री प्वाइंट पर पुलिस फोर्स के साथ बीएसएफ के जवान भी तैनात किए गए हैं। पुलिस किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह अलर्ट है।

Edited By: Jagran