शामली, जागरण टीम। कांधला कस्बे के राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय में बालिका हेल्थ क्लब के अंतर्गत राष्ट्रीय बालिका दिवस का आयोजन किया गया।

बालिका हेल्थ क्लब की संयोजिका डा. अंकिता त्यागी ने बालिकाओं को उनके हितों को सुरक्षित रखने के लिए बनाए गए कानूनों एवं अधिकारों के विषय में जागरूक किया। सरकार द्वारा बालिकाओं की सुरक्षा एवं स्वरोजगार के लिए संचालित योजनाओं जैसे बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, सुकन्या समृद्धि योजना, धनलक्ष्मी योजना व किशोरी योजना आदि के बारे में जानकारी दी। उन्होंने घरेलू हिसा की धारा 2009, बाल विवाह रोकथाम एक्ट 2009, दहेज रोकथाम एक्ट 2006 आदि कानूनों से अवगत कराया। इसके अलावा नई शिक्षा नीति-2020 द्वारा प्रस्तावित लिग समावेशन कोष व उससे बालिकाओं को मिलने वाले लाभ के विषय में छात्राओं को जागरूक किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही प्राचार्या प्रमोद कुमारी ने बताया कि यह दिन बालिकाओं के लिए अत्यधिक सशक्त दिवस है, क्योंकि प्रथम महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने अपना कार्यभार 24 जनवरी को ही संभाला था। सन् 2008 से राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाने का उद्देश्य भी यही था कि प्रत्येक बालिका उन्हीं के समान सशक्त एवं सबल बने। उन्होंने 'कन्या भ्रूण हत्या' विषय पर आनलाइन प्रतियोगिता की विजेता छात्राओं के नाम घोषित किए। जिसमें तनु पंवार प्रथम, मिली शर्मा दूसरे व कोमल इंशा तीसरे स्थान पर रही। कार्यक्रम का संचालन करते हुए महिला प्रकोष्ठ की संयोजिका डा. दीप्ति चौधरी ने बताया कि आज उत्तर प्रदेश दिवस व जननायक कर्पूरी ठाकुर जयन्ती भी मनाई जाती है। कार्यक्रम का समापन बालिका सुरक्षा की शपथ दिलाने के साथ हुआ।

Edited By: Jagran