शामली, जेएनएन। हरियाणा के जिद-सफेदों मार्ग पर ट्राले से इनोवा कार टकरा जाने से कस्बा बनत के चार युवकों की मौत हो गई। मरने वालों में दो सगे भाई भी हैं। कैराना के दो युवक गंभीर रूप से घायल हो गए। युवकों की मौत की खबर मिलने से कस्बे में कोहराम मच गया। ईद की खुशियों में शरीक हुए लोगों में मातम छा गया। कस्बे के बाजार बंद हो गए। कस्बे के लोग मृतकों के घरों की ओर उमड़ पड़े। हर किसी की आंखों से आंसू झलक रहे थे। देर शाम चारों युवकों को नमाज के बाद सुपुर्द-ए-खाक किया गया। इस दौरान कस्बे में पुलिस बल तैनात रहा।

गुरुवार की सुबह करीब तीन बजे कस्बा बनत के मोहल्ला हकीकतनगर निवासी फिरोज व सोनू पुत्र इरफान अपने साथी कस्बा निवासी मोईन पुत्र अरशद, रिहान पुत्र स्वर्गीय मोहम्मद उमर निवासी मोहल्ला संजय नगर व साहिब, नावेद, शौकीन व हरियाणा के सिरसा निवासी राहुल, गौरव व काकू के साथ इनोवा कार बुक करके सिरसा के लिए रवाना हुए। जब वह जींद के सफेदों के निकट पहुंचे तो सामने खड़े ट्राला से उनकी कार की जोरदार टक्कर हो गई। हादसे में इनोवा कार सवार फिरोज, सोनू, मोईन, रिहान कस्बा बनत निवासी, कार चालक राहुल व काकू सहित छह लोगों की मौत हो गई। पांच युवक गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को सिरसा के अस्पताल में भर्ती कराया गया।

चार युवकों की मौत की खबर कस्बा बनत पहुंची तो हर कोई मृतकों के घरों की तरफ दौड़ पड़ा। उनके घर लोगों का जमावड़ा लग गया। शाम को चारों युवकों का शव कस्बे में लाया गया। शवों को देखने के लिए लोगों का सैलाब उमड़ पड़ा। इससे शामली-मुजफ्फरनगर रोड जाम हो गया। मौके पर तैनात पुलिस ने भारी वाहनों का रुट डायवर्जन किया। चारों युवकों के शवों को देखकर वहां मौजूद लोग अपने आंसुओं को नहीं रोक पा रहे थे। शाम के समय नमाज के बाद दो सगे भाई फिरोज व सोनू को एक जगह सुपुर्द-ए-खाक किया गया। इसी के साथ मोईन व रिहान को नम आंखों से सुपुर्द-ए-खाक किया गया। इस दौरान पुलिस बल तैनात रहा।

Edited By: Jagran