मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

शामली, जेएनएन। कांधला में भाजपा की वरिष्ठ नेता व पूर्व विदेश मंत्री के निधन पर कस्बे में सामाजिक संगठन के लोगों ने श्रद्धाजंलि सभा का आयोजन किया।

भाजपा की नेता व पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन के बाद कस्बे की धर्मशाला में एक शोकसभा का आयोजन किया गया। इस मौके पर एमएलसी वीरेंद्र सिंह ने कहा कि सुषमा स्वराज के निधन से देश ने एक कुशल राजनेता को खो दिया है। सबसे कम उम्र में मंत्री बनी स्वराज ने विदेश मंत्री तक का सफर ईमानदारी व कर्मठता के साथ तय किया। विदेश मंत्री के पद पर रहते हुए भारतीय लोगों की मदद की। पूर्व ब्लाक प्रमुख सत्यबीर सिंह मलिक ने कहा कि स्वराज निर्भीक, कर्मठ, निष्ठावान के साथ एक प्रखर वक्ता थी। इनके निधन से राष्ट्र को अपूरणीय क्षति हुई है। पूर्व जिला महामंत्री तरूण अग्रवाल ने कहा कि सुषमा स्वराज से जो भी मिलता था, उससे वह परिवार की तरह मिलती थी। उनका जाना देशवासियों के लिए बहुत बड़ी क्षति है। उनको आयरन लेडी के नाम से जाना जाता था। कांधला विकास मंच के संयोजक अमित गर्ग ने कहा भारत के राजनीति नक्षत्र पर आकस्मिक निधन से उसकी भरपाई करना असंभव है। इस दौरान दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी। सभा का संचालन ईश्वर दयाल कंसल ने किया। शोक सभा में प्रधान चौधरी संजीव कुमार, पूर्व सांसद हरपाल मलिक, मोहन लाल चावला, ब्रज बिहारी मित्तल, नवेद जंग, नरेश सैनी, निक्की मलिक, जितेन्द्र सैनी भीम, विक्रांत डंगोरिया, राजू नामदेव, मदन सैनी व बिट्टू मलिक सहित आदि लोग मौजूद रहे।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप