बनत: कस्बा बनत में नगर पंचायत द्वारा बनाए गए महिला शौचालय पर दिन में ज्यादातर समय ताला लटका रहता है। इससे यहां महिलाओं को परेशानी होती है।

शहर व गांवों में लोग खासकर महिलाएं शौच के लिए बाहर नहीं जाएं। इसके लिए केंद्र व प्रदेश सरकार प्रयासरत हैं। यूपी में सबसे पहले शामली जनपद को ओडीएफ जिला घोषित किया गया। यहां मुजफ्फरनगर रोड स्थित कस्बा बनत में नगरपंचायत द्वारा लाखों रुपये की लागत से बनाए गए महिला शौचालय में सुबह से ही ताला लटक जाता है। रोड पर बनाया गया यह शौचालय केवल शो पीस साबित हो रहा है। महिला सविता, सरोज, बाला का कहना है कि वह सुबह इसी मार्ग से खेतों में जाती हैं, मगर यह कभी खुला नहीं दिखता। इसके बंद रहने से यहां से गुजरने वाली महिलाओं को परेशानी होती है। उन्होंने दिनभर शौचालय को खोले जाने की मांग की है।

इस संबंध में नगर पंचायत अध्यक्ष राजीव कुमार का कहना है कि नगर पंचायत बनत में ऐसे दो शौचालय बनाए गए हैं, जो कांवड़ यात्रा में आने वाली महिला श्रद्धालु के लिए हैं। ये शौचालय कांवड़ यात्रा में ही प्रयोग किए जाते हैं। कई बार बाहरी लोगों ने शौचालय को नुकसान पहुंचाया। कुछी समय के लिए यह बंद रहता है। इस शौचालय में एक व्यक्ति की ड्यूटी लगाई गई है। यह शौचालय सुबह खोला जाता है।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran