शाहजहांपुर : अलग अलग ट्रेन हादसों में दो लोगों की मौत हो गई। दोनों मृतकों की शिनाख्त नहीं हो सकी है। एक यात्री का पैर ट्रेन पर चढ़ने के दौरान फिसल गया, इससे वह गिर गया। वहीं दूसरे का शव ट्रैक पर पड़ा मिला।

पाटलिपुत्र-नई दिल्ली एक्सप्रेस गुरुवार की सुबह सवा नौ बजे बरेली की ओर जा रही थी। अप लाइन पर यार्ड में पावर केबिन के निकट ट्रेन से गिरकर एक अज्ञात युवक की मौत हो गयी। उसका शव अप तथा डाउन लाइन के बीच में पड़ा था। सूचना मिलने पर स्टेशन मास्टर ने जीआरपी को मेमो दिया। थाना प्रभारी अर¨वद कुमार पाण्डेय सिपाहियों के साथ मौके पर गए और अज्ञात शव को कब्जे में लिया। अज्ञात युवक की उम्र 30 वर्ष है और मटमैली रंग की जींस की पैंट व काली रंग की शर्ट पहने हुए है। उसके सिर आदि में चोट के निशान है। उसकी जेब से मोबाइल, आइडी, रेल टिकट नहीं मिला है। पुलिस ने अज्ञात शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। लखनऊ की ओर जाने वाली सियालदह एक्सप्रेस में एक यात्री चलती ट्रेन पर चढ़ने लगा तो पैर स्लिप हो गया। वह प्लेटफार्म के नीचे व ट्रेन के बीच फंस गया और रगड़ गया। यात्रियों ने शोर मचाया तो चेन पु¨लग करके ट्रेन रोक दी। जीआरपी के दारोगा प्रमोद कुमार सिपाहियों के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने उसको बाहर निकाला। उसकी मौत हो चुकी थी। दारोगा ने बताया कि उसकी उम्र 30 साल है और जींस की पैंट व गुलाबी रंग की शर्ट पहने हुए है। उसके पास मोबाइल व रेल टिकट नहीं मिला है। कपड़े समेत एक थैला मिला है। शव की शिनाख्त नहीं हो पायी है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

Posted By: Jagran