जेएनएन, निगोही : पत्नी को प्रेमी के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देखने पर राजवीर ने विरोध किया था। जिस पर दोनों ने गला दबाकर उसकी हत्या कर दी थी। पुलिस ने आरोपित महिला के बाद उसके प्रेमी को भी गिरफ्तार कर लिया है। सोमवार को आरोपितों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से दोनों को जेल भेज दिया गया।

निगोही थाना क्षेत्र के सहतेपुर गांव निवासी राजवीर की रविवार सुबह मौत हो गई थी। छोटे भाई अजय ने अपनी भाभी अंजली व बुआ के बेटे क्षेत्र के ही निवाड़ी गांव निवासी बबलू पर प्रेम प्रसंग के चलते गला दबाकर हत्या करने का आरोप लगाया था। पुलिस ने अंजली को मौके से ही गिरफ्तार कर लिया था, जबकि उसके प्रेमी को देर रात क्षेत्र के अरेली गांव के पास से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के दौरान दोनों ने बताया कि रविवार देर रात राजवीर ने दोनों को आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था। जिसका विरोध करने पर दोनों ने मिलकर गला दबाकर हत्या कर दी थी।

------

काफी देर तक हुई मारपीट

पुलिस के मुताबिक काफी देर तक राजवीर का अंजली व बबलू से विवाद चलता रहा। मारपीट भी हुई, लेकिन विवाद बढ़ने पर डंडा गले पर रखकर दबा दिया जिससे उसकी मौत हो गई। घटना के बाद बबलू भाग गया जबकि अंजली ने शोर-शराबा मचाना शुरू कर दिया। जिससे तमाम लोग मौके पर पहुंच गए।

-----

बयान बदलने पर बढ़ता गया शक

अंजली परिजनों व पुलिस को गुमराह करती रही। कभी अचानक चक्कर आने की वजह से गिरकर मौत होने की बात कह रही थी तो कभी शराब पीने की वजह से मौत होना बता रही थी। जबकि अजय ने कमरे में टूटी चूड़ी व भाई का टूटा लॉकेट देखते ही अंजली पर हत्या करने का आरोप लगाना शुरू कर दिया था। जिस वजह से पुलिस ने अंजली को रविवार को ही हिरासत में ले लिया था।

--------

बबलू ने तोड़ दिए मां-बाप के सपने

अंजली व बबलू के प्रेम प्रसंग के बारे में सभी को जानकारी थी। कई बार दोनों को समझाया भी गया था। बबलू के पिता सुरेंद्र व मां माया देवी ने बेटे की शादी तय कर दी थी ताकि रिश्तों में किसी तरह की दरार न पड़े। 28 मई को तिलक होने के बाद राजवीर ने दोनों को माफ भी कर दिया था, लेकिन इस घटना से सुरेंद्र व माया देवी के बेटे की शादी के सपने भी बिखर गए।

वर्जन

राजवीर ने दोनों को आपत्तिजनक हालत में देख लिया था। जिस वजह से उसकी गला दबाकर हत्या कर दी गई। उसकी पत्नी ने इस घटनाक्रम में अपने प्रेमी का साथ दिया है। दोनों आरोपितों को जेल भेज दिया गया है।

- कुलदीप गुनावत, सीओ सदर

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस