शाहजहांपुर : स्टेशन पर अप लाइन से गुजर रही मालगाड़ी के आगे विवाहिता ने कटकर जान दे दी। जो रेल पटरी पर लेट गयी थी। उसका धड़ पटरी के बीच तथा सिर पटरी के बाहर किनारे पड़ा था। घटना का कारण पारिवारिक कलह बताया जाता है। जीआरपी ने शव को कब्जे में लिया। इससे प्लेटफार्म तीन पर रेल लाइन की पटरी के बीच में उसका शव पड़ा था। जिसके चलते 25 मिनट तक संचालन प्रभावित रहा। बरेली की ओर जा रही मालगाड़ी को रेल लाइन चार पर लिया गया। अमरनाथ एक्सप्रेस को आउटर सिग्नल पर रोक दिया गया था।

सदर बाजार थाना क्षेत्र के मुहल्ला पक्का तालाब निवासी 28 वर्षीय शाहीन पत्नी मुहम्मद सईद सोमवार की रात साढ़े तीन बजे नमाज पढ़ने के लिए उठीं और स्टेशन पर चली गई। वह प्लेटफार्म तीन पर काफी देर तक इधर-उधर घूमती रहीं। पॉवर केबिन से पहले प्लेटफार्म तीन पर एक चबूतरे पर भोर में पौने छह बजे बैठी थी। इसी बीच रोजा से मालगाड़ी आ रही थी। जब मालगाड़ी पॉवर केबिन के निकट आ गयी। वह उठी अपना मोबाइल प्लेटफार्म के किनारे पर रख दिया। अप लाइन की रेल पटरी पर गर्दन रखकर लेट गयी। इस दौरान मालगाड़ी से उसका धड़ कटकर अलग हो गया। इससे उनकी मौत हो गई। स्टेशन मास्टर ने जीआरपी को मेमो दिया। थाना प्रभारी अर¨वद कुमार पांडेय ने शव को कब्जे में लेने के साथ ही उसके फोन पर पति से बातचीत की। उसके शौहर ने शाहीन के रूप में शिनाख्त की। घटना का कारण पारिवारिक कलह बताया जाता है। एक दारोगा ने बताया कि कुछ देर पहले भी आत्महत्या की कोशिश की थी। शाहीन की शौहर मोहम्मद सईद ने बताया कि उसकी शादी शाहीन से आठ साल पहले मीरानपुर कटरा के गांव खितुआ से हुई थी। उसकी दो छोटी बेटी है। शौहर का हाल रो-रोकर बुरा हो गया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021