शाहजहांपुर, जेएनएन: जलालाबाद क्षेत्र में मकान न बेचने पर अपनी मां को जिदा जलाने वाले आरोपित बेटे-बहू समेत चारों आरोपितों को पुलिस ने मंगलवार को जेल भेज दिया है। जबकि छोटे बेटे ने ढाईघाट पर मां की अंत्येष्टि कर दी।

नगर के मुहल्ला नौसारा निवासी रत्ना देवी को उनके बेटे आकाश गुप्ता, बहू दीपशिखा व दीपशिखा के पिता महाराजगंज जिले के कोटवा थाना क्षेत्र शिमसा बाजार निवासी अच्छे लाल, मामा महाराजगंज जिले के निचलौल बाजार निवासी विनोद ने जिदा जिला दिया था। चारों के खिलाफ रत्ना देवी के छोटे बेटे किशन ने मकान न बेचने पर हत्या करने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया था। मंगलवार दोपहर एएसपी ग्रामीण अपर्णा गौतम कोतवाली पहुंची। जहां प्रभारी निरीक्षक जसवीर से जानकारी की। इसके बाद आरोपितों से भी पूछताछ की। दूसरे दिन भी चारों आरोपितों को घटना को लेकर किसी तरह का पछतावा नहीं था। प्रभारी निरीक्षक जसवीर सिंह ने बताया कि हत्या की धारा में मुकदमा तरमीम कर दिया गया है।

Edited By: Jagran