जेएनएन, शाहजहांपुर : पराली जलाने में दर्ज 295 मामलों व 94 एफआइआर के तहत सोमवार को पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की। मनाही के बावजूद पराली जलाने वाले 19 किसानों को गिरफ्तार कर लिया गया। देर शाम मामले की शासन को रिपोर्ट भी भेज दी गई।

एनजीटी के आदेश पर शासन ने पराली जलाने पर कड़ाई से प्रतिबंध लगा दिया है। अपर मुख्य सचिव की ओर से एफआइआर दर्ज किए जाने का भी आदेश जारी किया गया था। जनपद में आदेश का अनुपालन करते हुए 94 किसानों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। जबकि 295 घटनाओं में चिन्हित 319 किसानों पर 16.10 लाख का जुर्माना लगाया गया है। सोमवार को बंडा, खुटार, पुवायां तथ सिधौली पुलिस ने मनाही के बावजूद पराली जलाने वाले 19 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। एसपी ने बताया सभी को जेल भेज जाएगा।

67500 जुर्माना वसूला

प्रभारी उप कृषि निदेशक तथा जिला कृषि अधिकारी डा. सतीश चंद्र पाठक ने जुर्माना वसूली की भी कार्रवाई शुरू कर दी है। सोमवार तक 16.10 लाख के सापेक्ष 67500 रुपये का जुर्माना वसूल कर लिया गया। 15 दिन के नोटिस की समयसीमा बीतने पर शेष से इसी माह जुर्माना वसूल किया जाएगा।

ये किसान हुए गिरफ्तार

गुरमीत सिंह- रौतापुर खुटार, रामकृष्ण ताजपुर बंडा, सरनजीत सिंह बंडा, अनुज ग्राम रसूलपुर बंडा, किशन कुमार ग्राम बंडा, सुरेश ग्राम भंवखेड़ा बंडा, लालाराम ग्राम गुरमंगलपुर पुवायां, सुरजीत सिंह ग्राम मुडिया बैरया पुवायां, प्रदीप ग्राम पकड़िया हकीम पुवायां, बलविदर सिंह ग्राम तेंदुआ पुवायां, रामदत्त मिश्रा ग्राम नाहिल पुवायां, गुलाब ग्राम बबौली सिधौली, मानसिंह ग्राम माहू दुर्ग सिधौली, बलिहसन निवासी भटपुरा रसुलपुर सिधौली, मोहित खंडसार सिधौली, सुखवीर सिंह ग्राम चक कंन्हहू, रामस्वरूप निवासी महमूदापुर सिधौली को गिरफ्तार।

थाना प्रभारियों ने भेजे नोटिस, लिए सहयोग पत्र

पराली जलाने की सर्वाधिक घटनाएं पुवायां तहसील में हुई है। क्षेत्र के थाना प्रभारियों ने किसानों को पराली न जलाने के नोटिस भेजने के साथ ही प्रधानों से सहयेाग पत्र लेना शुरू कर दिया है। बंडा प्रभारी निरीक्षक ने 253 व्यक्तियों को पराली न जलाने के लिए नोटिस भेजा है। 50 प्रधानों से सहयोग पत्र लिया गया। इसी तरह पुवायां के 260, सिधौली में 257, व्यक्तियों को पराली न जलाने का नोटिस दिया गया। 61 प्रधानों से सहयोग पत्र भी लिया गया है।

नियमित भ्रमण को एसपी ने थानाध्यक्षों को भेजा पत्र

एसपी डा. एस चिनप्पा ने सभी थानाध्यक्षों को नियमित भ्रमण को पत्र भेजा है। पत्र में आगाह किया गया कि नोडल अधिकारियों के साथ भ्रमण कर पराली पर अंकुश लगाया जाए। उन्होंने चेताया कि यदि पराली जलाने की घटना मिली तो कार्रवाई की जाएगी।

डुग्गी, मुनादी पिटवाने का क्रम जारी

डीएम के निर्देश पर प्रधानों ने डुग्गी, मुनादी पिटवानी शुरू कर दी है। जागरूकता कार्यक्रमों का भी सिलसिला चल रहा है। अब तक 1116 स्थलों पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जा चुके हैं।

ब्लाकवार कराए गए जागरूकता कार्यक्रम

विकास खंड : जागरूकता कार्यक्रम

भावलखेड़ा : 72

ददरौल : 74

कांट : 69

मदनापुर : 63

तिलहर : 44

जैतीपुर : 48

खुदागंज : 51

निगोही : 63

जलालाबाद : 74

मिर्जापुर : 64

कलान : 72

पुवायां : 112

बंडा : 116

खुटार : 103

सिधौली : 91

----------------------

कुल योग : 1116

---------------------- फोटो 18 एसएचएन 37

जनपद में पराली जलाने के 295 मामलों में 310 किसानों को चिन्हित किया गया है। 94 किसानों के खिलाप मुकदमा भी दर्ज कराया गया है। 19 दोषियों को गिरफ्तार किया गया। 21 घटनाएं दूसरे जनपद की है। जो अक्षांश व देशांतर की गलत फीडिग से शाहजहांपुर में प्रर्दिशत हुई है। मामले की शासन को रिपोर्ट भेज दी गई है।

इंद्र विक्रम सिंह, जिलाधिकारी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस