संतकबीर नगर: खलीलाबाद के प्राथमिक विद्यालय गोलारगड़गंज में लगे इंडिया मार्क हैंडपंप बदबूदार पानी देते हैं। मगहर स्थित कन्या उच्च प्राथमिक विद्यालय के दोनों इंडिया मार्क हैंडपंपों से एक बूंद पानी नहीं निकलता। जिले के अनेक विद्यालयों का यही हाल है। एक तरफ कानवेंट स्कूल की तर्ज पर परिषदीय विद्यालयों में सुविधा देने की पहल चल रही है, दूसरी तरफ यहां बच्चों के लिए पानी तक बेमानी बन हुआ है।

जिले के नौ ब्लाक में 1,518 विद्यालयों में करीब 2,700 में से 23 फीसद इंडिया मार्क हैंडपंप खराब हैं। माडल प्राथमिक विद्यालय खलीलाबाद प्रथम में 225 बच्चों के लिए दो इंडिया मार्क हैंडपंप लगे हैं, एक खराब है। कन्या पूर्व माध्यमिक विद्यालय मगहर द्वितीय के परिसर में प्राथमिक विद्यालय भी है। दोनों हैंडपंप बेपानी हैं। यहां 98 बच्चियां पढ़ती हैं।

यहां है हैंडपंप खराब

प्राथमिक विद्यालय मैलानी, प्राथमिक विद्यालय रक्शा, देवडीह, कुईपार व उच्च प्राथमिक विद्यालय-मेंहदावल सहित अन्य परिषदीय विद्यालयों के हैंडपंप खराब हैं। उच्च प्राथमिक विद्यालय जंगलऊन, प्राथमिक विद्यालय मीरगंज द्वितीय में हैंडपंप लगे ही नहीं। विद्यालयों के खराब हैंडपंपों को ठीक कराया जाएगा। यहां सब मर्सीबल पंप लगाने का प्रस्ताव है। दिक्कत दूर कर साफ पानी उपलब्ध कराने की पहल चल रही है।

सत्येंद्र कुमार सिंह, बीएसए

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस