संतकबीर नगर: सांथा ब्लाक के जमया गांव स्थित बूढ़ी राप्ती नदी पर बनी पुलिया का एप्रोच पिछले छह माह से क्षतिग्रस्त है। पुलिया के दोनों तरफ करीब तीन फीट तक मिट्टी कट गई है, जिससे लोगों को आवागमन की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। दो पहिया वाहन तो जैसे-तैसे निकल रहे हैं, लेकिन चार पहिया वाहनों के लिए इस पुलिया से आवागमन करना खतरे से खाली नहीं है। स्थानीय लोगों ने कहा कि अगर इसकी जल्द मरम्मत नहीं हुई तो हम लोग आंदोलन करने को बाध्य होंगे।

जमया गांव के संदीप, दुर्गेश, नारद, मनीष, कमलेश, सिरधर, सुरेश आदि लोगों ने बताया कि एक दशक पूर्व बेहतर आवागमन के लिए इस पुलिया का निर्माण कराया गया था। यह धर्मसिंहवा क्षेत्र को गोरखपुर जनपद से जोड़ती है। जमया घाट से जखनिया, बरघाट, सेवहा बाबू होते हुए सड़क गोरखपुर जनपद की सीमा तक पहुंचती है। आसपास के गांवों के लोग गोरखपुर जाने के लिए तथा गोरखपुर से धर्मसिंहवा आने के लिए इस पुलिया का प्रयोग करते हैं। लेकिन वर्तमान समय में इसका एप्रोच क्षतिग्रस्त हो चुका है। लेकिन महकमे के जिम्मेदार अधिकारी इसकी मरम्मत से कतरा रहे हैं। हालांकि पुलिया अभी पूरी तरह से सुरक्षित है, लेकिन अप्रोच के क्षतिग्रस्त होने से चार पहिया वाहनों का आवागमन ठप हो गया है। ग्रामीणों ने कहा कि दिन में तो जैसे-तैसे करके पैदल व दो पहिया सवार अपनी यात्रा सकुशल पूरी करते हैं, लेकिन रात के समय में इस पुल से यात्रा करना काफी खतरनाक है। क्योंकि पुलिया का अप्रोच दोनों तरफ धंस चुका है। इस बारे में उप जिलाधिकारी अजय कुमार त्रिपाठी ने कहा कि मामला उनके संज्ञान में आया है। वह इसके लिए संबंधित विभाग को पत्र लिखेंगे। जल्द ही एप्रोच बनवा दिया जाएगा।

Edited By: Jagran