संतकबीर नगर: विकास खंड बघौली में सोमवार को मंडलीय तकनीकी टीम द्वारा दो दर्जन से अधिक ग्राम पंचायतों में कराए गए विकास कार्यों की जांच की गई। अधिकांश स्थानों पर प्रोजेक्ट का बोर्ड नहीं लगा मिलने पर जिम्मेदारों को फटकार भी लगाई गई। कराए गए कार्यों की जांच में माप सही मिलने पर संतुष्टि भी जाहिर की गई।

ब्लाक मुख्यालय पर टीएसी टीम के सदस्य दिन में लगभग दस बजे पहुंचे। इसके बाद दो दर्जन ग्राम पंचायतों में कराए गए कार्यों का स्थलीय सत्यापन किया गया।अभिलेखों में दिखाए गए कार्यों के साथ ही उनकी मौके पर स्थिति जांची गई। तीन सदस्यीय टीम के प्रभारी नीरज सिंह ने ग्राम पंचायत चौरी में राम सांवर के खेत से शैलेन्द्र मौर्य के घर तक खड़ंजा कार्य को देखा। इसमें 30 मीटर व 70 मीटर के दो अलग-अलग प्रोजेक्ट होने पर एक ही प्रोजेक्ट बनाकर कार्य पूरा करवाने का निर्देश दिया गया। कर्मचारियों ने बड़े प्रोजेक्ट की स्वीकृति नहीं मिलने की बात कही। जांच में खड़ंजा कार्य पूरा मिला परंतु बोर्ड नहीं लिखा मिला।इसे लेकर नाराजगी व्यक्त करते हुए टीम के अधिकारी ने तत्काल बोर्ड नहीं लगवाने पर कार्रवाई की चेतावनी दी। बालूशासन में रामदेव के घर से हौसिला के घर तक कराये गये इंटरलांकिग कार्य की भी जांच हुई। यहां दस मीटर अधिक कार्य मिलने पर प्रधान की सराहना की गई। आटा कला के राजस्व ग्राम बेला में भी कार्य पूरा मिला। इस दौरान एडीओ एमआई बद्री प्रसाद,एपीओअजीत सिंह,टीए शिवापति त्रिपाठी,गोविद श्रीवास्तव,केडी खान,हरीराम शर्मा,फागू राय,पिटू राय,शिवलोचन,दीप श्रीवास्तव,संजय कुमार,सतीश मौर्य ,क्षितिज चौधरी आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप