संतकबीरनगर : कलेक्ट्रेट सभागार में शनिवार को जिलाधिकारी दिव्या मित्तल की अध्यक्षता में जिला विद्यालय यान परिवहन सुरक्षा समिति की बैठक आयोजित की गई। डीएम ने विद्यालय वाहनों का फिटनेस 15 दिन के अंदर करवाने का निर्देश दिया।

डीएम ने कहा कि अक्सर स्कूली वाहनों से घटनाएं हो रही हैं। इसका मुख्य कारण विद्यालय के जिम्मेदारों द्वारा समय से वाहन की जांच न करवाना, अप्रशिक्षित चालकों से वाहन को चलवाना, वाहनों का फिटनेस न करवाना रहता है। उन्होंने जिला विद्यालय निरीक्षक गिरीश कुमार सिंह को निर्देश दिया कि 15 दिनों के भीतर सभी वाहनों के फिटनेस की जांच हर हाल में हो जाए। एडीएम मनोज कुमार सिंह ने एआरटीओ को निर्देश दिया कि वाहन अधिग्रहण का आदेश प्राप्त होने पर वाहन स्वामी समय से वाहन को विभाग को उपलब्ध करवा दें। चुनाव में लगे वाहनों को समय से नहीं उपलब्ध करवाने वाले वाहन स्वामियों के विरुद्ध लोकप्रतिनिधित्व अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी। मौके पर एआरटीओ आंजनेय सिंह समेत शिक्षा विभाग के साथ ही प्रशासन के तमाम जिम्मेदार अधिकारी मौजूद रहे। डीएम-एसपी ने देखी अतिसंवेदनशील बूथों की स्थिति, दिया निर्देश

संतकबीर नगर : जिलाधिकारी दिव्या मित्तल और पुलिस अधीक्षक डा. कौस्तुभ शनिवार को खलीलाबाद विधानसभा क्षेत्रों के संवेदनशील और अतिसंवेदनशील बूथों की स्थिति देखी। मौके पर मौजूद जिम्मेदारों को बूथों पर व्यवस्था दुरुस्त करने के साथ ही समय-समय पर निगरानी करने का निर्देश दिया। डीएम ने कहा कि उपद्रवी तत्वों की प्रशासन लिस्ट तैयार कर रहा है। चुनाव प्रभावित करने वालों पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।

डीएम और एसपी सबसे पहले प्राथमिक विद्यालय बनियाबारी पहुंचे। वहां मौजूद लोगों से बात की और जिम्मेदारों को आवश्यक निर्देश दिया। उसके बाद दोनों अधिकारी बारी-बारी से चकदही स्थित प्राथमिक स्कूल, आदर्श प्राथमिक विद्यालय सियरासाथा, प्राथमिक विद्यालय देवरिया गंगा, प्राथमिक विद्यालय कोनी, के साथ ही प्राथमिक विद्यालय कोलुआ का निरीक्षण किया। प्रशासन की नजर में यह बूथ संवेदनशील और अतिसंवेदनशील हैं। इन बूथों पर बिजली, पानी, शौचालय व सुरक्षा समेत अन्य सुविधाओं को बेहतर करने के साथ ही समस्याओं को अतिशीघ्र दूर कराने के लिए निर्देशित किया। मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की संख्या के हिसाब से आवश्यक प्रबंधन करने के लिए संबंधित को जिम्मेदारी सौंपी गई। डीएम और एसपी ने इस दौरान ग्रामीणों से भी मुलाकात कर लोगों को मतदान करने के लिए जागरूक किया। इसके साथ ही सुरक्षा व्यवस्था व मतदान के समय मतदाताओं को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े। इसके लिए पुलिसकर्मियों को निर्देश देने के साथ उपद्रव करने वालों को चिह्नित कर उनके खिलाफ कार्रवाई की बात कही।

Edited By: Jagran