संतकबीर नगर : परिवार नियोजन की सेवाओं से जन सामान्य को जोड़ने के साथ ही उन्हें त्वरित रूप से सेवा प्रदान करने के उद्देश्य से खुशहाल परिवार दिवस का आयोजन गुरुवार को विभिन्न स्वास्थ्य इकाइयों पर किया गया। इस दौरान 118 महिलाओं ने जहां त्रैमासिक गर्भनिरोधक अंतरा इंजेक्शन को अपनाया, वहीं 242 महिलाओं को साप्ताहिक गोली छाया की सुरक्षा मिली।

मुख्य चिकित्साधिकारी डा. इन्द्रविजय विश्वकर्मा के निर्देशन में खुशहाल परिवार दिवस कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डा. मोहन झा की देखरेख में स्वास्थ्य इकाइयों के कर्मियों तथा फ्रंट लाइन वर्कर्स की मदद से सेवाएं उपलब्ध करवाई गईं। जनपद की 28 स्वास्थ्य इकाइयों पर इस दौरान महिलाओं को परिवार नियोजन की सेवाएं प्रदान की गईं। यही नहीं महिलाओं और योग्य दंपतियों को परिवार नियोजन के स्थाई साधनों के प्रति जागरूक भी किया गया। खुशहाल परिवार दिवस पर हौसला साझेदारी के तहत कार्य कर रहे निजी चिकित्सालयों को भी आयोजन से जोड़ा गया। फ्रंट लाइन वर्कर्स इस दौरान योग्य दंपतियों को लेकर स्वास्थ्य इकाइयों तक पहुंचे। दंपती ने दिखाई जागरूकता, हुए सम्मानित

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. मोहन झा ने बताया कि शासन से मिले दिशा-निर्देशों के अनुसार परिवार नियोजन के साधनों की सभी इकाइयों पर शत-प्रतिशत उपलब्धता सुनिश्चित कराई गई है। इस दौरान दंपतियों ने जागरूकता दिखाते हुए परिवार नियोजन के साधनों को अपनाया है। साथ ही साथ आशा कार्यकर्ताओं के माध्यम से सामुदायिक स्तर पर प्रचार-प्रसार करवाया गया। परिवार नियोजन के साधनों के प्रति बढ़ी जागरूकता

स्वास्थ्य विभाग की परिवार नियोजन इकाई के लाजिस्टिक मैनेजर इम्तियाज अहमद बताते हैं कि लोगों के अन्दर परिवार नियोजन के साधनों के प्रति जागरूकता बढ़ी है। महिलाएं स्वत: त्रैमासिक गर्भनिरोधक इंजेक्शन अंतरा लगवाने के लिए आ रही हैं। वह परिवार नियोजन के साधनों के बारे में चिकित्सकों से बात भी करती हैं।