जेएनएन, चन्दौसी/सम्भल: सर्दी का सितम दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। मंगलवार की सुबह से ही आसमान में बादल छाए रहे और सर्द हवा चलती रहीं। बादल व सर्द हवाओं के चलते गलन वाली सर्दी का एहसास हुआ। इसके चलते सड़कों पर कम ही लोग नजर आए केवल जरूरी काम वाले ही लोग घरों से बाहर निकले। अधिकांश लोग घरों में ठंड से बचने को हीटर व सड़कों पर लोग अलाव का सहारा लेते रहे।

शीतलहर और कोहरे का प्रकोप कम होने का नाम नहीं ले रहा है। बर्फीली हवाओं के चलने से मौसम में काफी ठंडक रही। जिसके चलते लोग खासे परेशान रहे। मंगलवार की सुबह से ही आसमान पर बादल पूरे दिन छाए रहे। बादलों के छाए रहने से लोगों को सूर्यदेव के दर्शन नहीं हो सके। पूरे दिन आसमान के छाए बादल और चलती सर्द हवा ने हाड़ कांपती ठंडक ने लोगों को ठिठुरन का एहसास कराया। सुबह से बादलों के छाए रहने व सर्द हवा के कारण लोगों ने घर के अंदर हीटर, सड़कों पर आग का सहारा लिया। शाम ढलते ही सड़कों पर सन्नाटा पसरा नजर आया। इक्का-दुक्का लोग ही सड़कों पर नजर आए। दुकानदार जल्दी ही प्रतिष्ठानों को बंद करके घरों को चले गए।

घरों से बाहर निकलने की नहीं जुटा पा रहे हिम्मत

सोमवार को सुबह के समय कोहरा था, लेकिन दोपहर में धूप निकल आई थी। इसके बाद लोगों ने राहत महसूस की थी, लेकिन मंगलवार को एक बार फिर मौसम खराब हो गया। लोगों को उम्मीद थी कि धूप निकल आएगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और पूरे दिन धूप नहीं निकली। सर्द हवा चलने के चलते लोग घरों से बाहर निकलने की हिम्मत नहीं जुटा पाए।

Edited By: Jagran