जेएनएन, चन्दौसी: कोतवाली क्षेत्र के मुहल्ला विकास नगर में ब्याज के रुपये के लेनदेन को लेकर दुकानदार की शुक्रवार की रात गोली मारकर हत्या कर दी गई। पुलिस ने हत्यारोपित दोनों भाइयों को घटना के एक घंटे बाद ही हिरासत में ले लिया था और पिस्टल भी बरामद कर ली थी। शनिवार को पोस्टमार्टम के बाद दुकानदार का शव घर पहुंचा तो कड़ी सुरक्षा के बीच अंतिम संस्कार किया गया। उधर पुलिस ने दोनों आरोपितों को चालान कर दिया है। गांव मौलागढ़ के मुहल्ला विकास नगर निवासी अभिषेक अग्रवाल उर्फ अमित लाला (35) पुत्र प्रवेश चंद्र अग्रवाल की बहजोई बस अड्डे स्थित दुकान को बंद करके शुक्रवार की रात 10:30 बजे घर पहुंचे, तो उनके पड़ोसी दो भाई नवीन भारती व प्रवीण भारती उसके घर के बाहर आए और अभिषेक अग्रवाल को घर के बाहर बुलाकर अपने रुपयों को लेकर गाली गलौज करने लगे। विरोध करने पर उनकी कनपटी पर लाइसेंसी पिस्टल से गोली मार दी। इसके बाद सीने पर भी एक गोली मारी। इससे दुकानदार की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना पाकर मौके पर सीओ, कोतवाली प्रभारी पुलिस बल के पहुंच गए और दोनों हत्यारोपित भाइयों को पकड़कर पिस्टल बरामद कर ली और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। सूचना पाकर एसपी चक्रेश मिश्रा भी मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी की थी। शनिवार की दोपहर को शव पोस्टमार्टम के बाद घर पहुंचा। शव पहुंचते ही पत्नी बच्चों क साथ अन्य स्वजन का रो रोकर बुरा हाल हो गया। शव पहुंचने की सूचना पाकर सीओ गोपाल सिंह, कोतवाली प्रभारी देवेन्द्र कुमार शर्मा, इंस्पेक्टर बहजोई आरपी सिंह, सीओ गोपाल सिंह, थानाध्यक्ष बनियाठेर रविन्द्र कुमार मृतक के घर पुलिस बल के साथ पहुंच गए। उसके बाद अपनी सुरक्षा में शव को नगर के श्मशान घट ले गए और वहां पर अंतिम संस्कार तक मौजूद रहे। कोतवाली प्रभारी ने बताया कि दोनों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करके चालान कर दिया गया है।

Edited By: Jagran