सम्भल: शहर कांग्रेस कमेटी ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के बलिदान दिवस को आतंकवादी विरोधी दिवस के रूप में मनाया।

मंगलवार को शहर अध्यक्ष तौकीर अहमद के नेतृत्व में हुए कार्यक्रम में वक्ताओं ने उनके जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि 1984 में 1989 तक के पांच वर्ष के प्रधानमंत्री कार्यकाल में राजीव गांधी ने भारत को 21 वीं सदी में ले जाने का अनुकरणीय प्रयास किया। जिसे भुलाया नहीं जा सकता। राजीव गांधी ने देश को माडर्न इंडिया बनाने में जो सराहनीय छाप छोड़ी वह युवाओं के लिए प्रेरणा स्त्रोत बने रहेंगे। उन्हें सूचना एवं दूरसंचार क्रांति के जनक व डिजिटल इंडिया के शिल्पकार माना जाता है। इस अवसर पर शिवकिशोर गौतम, वरीद वारसी, हाजी अथर, हिलाल अख्तर, जयप्रकाश सहगल, डॉ. सलाहउद्दीन, सुबहानी, मोहम्मद जुल्फेकार, अरविन्द्र सैनी, रेहान, अहसान मलिक, स्वतंत्र सूर्यवंशी, इफ्तेखार कुरैशी, अमरपाल यादव, अकील अहमद, जीतपाल, कैलाश सिंह, विजय शर्मा, पवन गिरी, महेशपाल, राजवीर सिंह, शेरसिंह, लालाराम, फुरकान कुरैशी आदि रहे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप