सहारनपुर, जेएनएन। देवबंद क्षेत्र के जहीरपुर गांव निवासी एक युवक का विवाह एक वर्ष पूर्व जनपद मुजफ्फरनगर क्षेत्र में हुआ था। बताया जा रहा है कि तीन माह पूर्व युवक की पत्नी अपने मायके चली गई थी। पत्नी को लेने के लिए युवक कुछ दिन पूर्व अपनी ससुराल गया था। जहां ससुरालियों ने उसकी पत्नी को उसके साथ भेजने से इंकार कर दिया था। इतना ही नहीं उसके साथ अभद्रता कर मारपीट भी की थी, तभी से युवक स्वयं को अपमानित महसूस कर रहा था। मंगलवार शाम को उक्त युवक ने जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया। जिसकी उपचार के दौरान बुधवार को मौत हो गई। परिजनों ने पुलिस को सूचना दिए बिना ही शव को दफना दिया है। प्रभारी निरीक्षक अशोक सोलंकी ने बताया कि परिजनों के मुताबिक युवक की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी और वह कोई कार्रवाई नहीं चाहते है।

चेतना समिति ने सेवा कार्यों का संकल्प दोहराया

सहारनपुर: राष्ट्रीय चेतना सेवा समिति की आनलाइन बैठक में कोरोना महामारी के दौरान सेवा कार्यों में बढ़चढ़ कर भागीदारी का संकल्प दोहराया। इस दौरान पदाधिकारियों से कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए पीड़ित लोगों की मदद को जुट जाने का आह्वान किया गया।

राष्ट्रीय अध्यक्ष मनीष गुप्ता व जिला संरक्षक रमा गुप्ता ने बताया समिति द्वारा पीड़ितों की हर संभव मदद की जा रही है, जिला अध्यक्ष अर्चित अग्रवाल द्वारा मरीजों को बेड, आक्सीजन एव निश्शुल्क दवाइयां और भोजन की व्यवस्था कराई जा रही है। जिला प्रभारी ममता सिघल ने बताया जिन परिवारों में छोटे बच्चे हैं उनके लिए दूध की व्यवस्था भी कराई जा रही है। महानगर प्रभारी आरती गोयल, जिला संरक्षक उमा नेगी मौर्य व जिला महामंत्री सपना गर्ग ने कहा सभी को कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए अन्य लोगों को इसके लिए प्रेरित करना है। जिला संरक्षक नीरू सिंह, महानगर अध्यक्ष पुष्पा गंगवाल, सोनम, पिकी, राधिका, अनुज गर्ग, अनिल कुमार गर्ग, मन्नू दुग्गल आदि शामिल रहे।

Edited By: Jagran