सहारनपुर जेएनएन। गंगोह के गांव कुंडाकला में कुत्तों के झुंड ने एक बालक को नोचकर लहूलुहान कर दिया। घटना के बाद से लोगों में आक्रोश है। मनोहरपुर में ग्रामीणों ने पंचायत कर जिला प्रशासन से खूंखार हो चुके कुत्तों से मुक्ति दिलाने की मांग की है।

शनिवार को दिल्ली रोड स्थित मनोहरपुर में ग्रामीणों ने पंचायत कर गहरा रोष जताया। उनका कहना था कि जिले में आए दिन खूंखार हो रहे कुत्ते छोटे बच्चों को अपना निशाना बना रहे हैं। गंगोह के कुंडाकला में एक बालक को कुत्तों के झुंड ने लहूलुहान कर दिया, जो चिता का विषय है। अशोक कुमार का कहना था कि प्रशासन की जिम्मेदारी बनती है कि वह कुत्तों के आतंक से लोगों को मुक्ति दिलाए। पवन कुमार का कहना था छोटे बच्चे घर के बाहर खेलते समय कुत्तों के निशाने पर आ जाते हैं। ऐसे में कुत्तों को पकड़वाने की व्यवस्था की जानी चाहिए। प्रमोद सैनी का कहना था नगर व ग्रामीण क्षेत्रों में भी कुत्ते खूंखार हो चुके हैं। आदित्य व अक्षय का कहना था कि कुत्तों की आबादी लगातार बढ़ रही है इसे नियंत्रित करने के लिए उपाय किए जाने चाहिए। सुमित ने कहा कि कुत्ते के काटे जाने के बाद पीड़ित को कई बार उपचार मिलने में दिक्कत आती है जिसका समाधान तत्परता से किया जाना चाहिए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस