सहारनपुर, जेएनएन। हिदूवादी नेता साध्वी प्राची ने मंगलवार को सीएए के समर्थन में चल रहे महिलाओं के भजन-कीर्तन को अपना समर्थन दिया। उन्होंने एआइएमआइएम नेता वारिस पठान के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि जो काम 15 करोड़ लोग 15 मिनट में कर सकते हैं, उसी काम को 100 करोड़ लोग कितनी देर में कर देंगे, इसका अंदाजा ओवैसी नहीं लगा सकते हैं। कहा कि दिल्ली को जलाने वाले सीएए विरोधी गद्दार हैं।

साध्वी प्राची ने कहा कि दिल्ली में हुई हिसा विदेशी ताकतों की सुनियोजित साजिश का हिस्सा है। अमेरिकी राष्ट्रपति की यात्रा के समय इतने बड़े स्तर पर हिसा के पीछे विश्व में भारत की छवि खराब करने का षड्यंत्र है। सीएए और एनआरसी के विरोध में चल रहे महिलाओं के धरना-प्रदर्शन पर उन्होंने कहा कि राट्रद्रोही खुद घरों में बैठ गए हैं। बकरियों को आगे कर दिया है। उन्होंने मांग की कि सरकार अब एनआरसी और दो बच्चों वाला जनसंख्या नियंत्रण कानून भी जल्द लागू करे। डोली गोयल, शुभलेश शर्मा, मीनू शर्मा, मनीषा सैनी, मीनू त्यागी आदि मौजूद रहे।

------

देवबंद कोतवाल से जताई नाराजगी

देवबंद दौरे के दौरान पुलिस सुरक्षा न दिए जाने को लेकर साध्वी प्राची ने कोतवाल के प्रति नाराजगी जताई। उन्होंने रेलवे रोड चौकी प्रभारी संजय शर्मा को अपने पास बुलाते हुए कहा कि कोतवाल को समझा देना कि फोन पर बात कैसे की जाती है। कोतवाल की रिपोर्ट ऊपर भेज दी गई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस