सहारनपुर, जेएनएन। रक्षाबंधन पर्व के लिए रविवार को राखी और मिठाई की दुकानें खुली रहीं। दुकानों पर खरीदारी को पहुंचे लोगों में पर्व के प्रति उत्साह नजर आया। हालांकि मिठाई की दुकानों पर अपेक्षित भीड़ कहीं नजर नहीं आई। कई दुकानों पर परिजनों के साथ पहुंचे बच्चों ने भी मनपसंद राखियां खरीदी। कोरोना संकट से आमजन से लेकर कारोबारी तक कामकाज न होने से परेशान रहे।

प्रदेश शासन के आदेश के बाद रविवार को लॉकडाउन के दौरान सुबह 10 से शाम पांच बजे तक राखियों व मिठाई की दुकानों को खोलने की छूट दी गई थी। कोर्ट रोड, हकीकत नगर, दिल्ली रोड, आवास विकास, बाजोरिया रोड, घंटाघर, सोफिया मार्केट, भगत सिंह मार्ग, नेहरू मार्केट, चकरोता रोड, बेरीबाग, नुमाइश कैंप, पुरानी चुंगी, पुल खुमरान, बेहट रोड, चिलकाना रोड, सुभाष नगर, गंगोह रोड, खलासी लाइन आदि क्षेत्रों में राखियों और मिठाई की दुकानें खुली। कई स्थानों पर बेकरी की दुकानें भी खुली थीं। बहनों ने भाइयों के लिए राखियां खरीदीं। कोर्ट रोड पर राखी खरीद रही दिल्ली से आई अनुष्का ने बताया कि वह 14 दिन से क्वारंटीन में थी। अब रक्षाबंधन पर भाई को राखी बांधेगी। मिठाई की दुकानों पर पूर्व के वर्षों में लगने वाली भीड़ नजर नहीं आई।

रामपुर मनिहारान: राखी की दुकानों को छूट दिए जाने के बाद राखी की बिक्री हुई जबकि मिठाई दुकानदारों को मंदी झेलनी पड़ी। राखी की दुकानों पर महिलाओं की भीड़ रही और उन्होंने राखी खरीदी, जबकि मिठाई की दुकानों पर मंदी नजर आई।

नानौता: मिठाई विक्रेता पवन कुमार, कैलाश चंद नामदेव, रमेश चंद, राजकुमार, सुंदर व संतराम तथा राखी विक्रेता जगपाल सिंह, राजेश वर्मा, प्रवीण कुमार आदि का कहना था कि लॉकडाउन में रविवार को राखी व मिठाई की दुकानें खोलने की अनुमति दे दी, लेकिन कोरोना संक्रमण के डर के चलते इस बार कारोबार प्रभावित हुआ।

जंधेड़ी: मिठाई विक्रेता संजीव कपूर, अरविद राणा, आदेश नामदेव, सुरेश कुमार, सन्नी कुमार, अमित नामदेव, अमित कश्यप, ओमपाल सिंह आदि ने बताया कि विगत वर्षों के मुकाबले इस वर्ष कोरोना संक्रमण के कारण बाजारों से रौनक गायब रही।

खेड़ा अफग़ान: रक्षाबंधन पर्व को लेकर बाजार में ग्राहक न होने से दुकानदार खाली बैठे नजर आए। दुकानदारों का कहना था कि दुकान खोलने का आदेश देर से आने के चलते बाजार में कम ग्राहक ही पहुंचे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस