जेएनएन, सहारनपुर। हिदी दिवस को लेकर स्कूल-कालेजों में कार्यक्रम आयोजित किए गए। इस अवसर पर हिन्दी के उत्थान को लेकर चर्चा भी की गई। गीता ज्ञान संस्कार एकेडमी में आयोजित कार्यक्रम में कक्षा 12 की नंदिता पांचाल ने हिदी के साथ नारी शक्ति पर भी अपने विचार प्रस्तुत किए । नन्ही मुन्नी कनिका ने भारत माता का रूप धारण कर दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया। विद्यालय की हिदी विषय अध्यापिकाओं श्रीमति अंजना शर्मा, श्रीमती प्रतिभा शर्मा, श्रीमती तृप्ता मलिक व श्रीमती अनिता ने भी हिदी दिवस पर अपने विचार प्रस्तुत किए। आयोजन को सफल बनाने में सभी शिक्षकों व उप प्रधानाचार्य श्रीमती पूजा का विशेष योगदान रहा । प्रधानाचार्य संजय कुमार गुप्ता ने बच्चों को संदेश दिया कि हिदी न केवल हमारी मातृभाषा है बल्कि हमारी जीवन शैली है। कार्यक्रम का संचालन रविद्र शर्मा ने किया। शोभित यूनिवर्सिटी के तत्वाधान में हिदी दिवस के अवसर पर वाद-विवाद प्रतियोगिता एवं कविता पाठ कार्यक्रम का आयोजन किया। कार्यक्रम की शुरुआत में स्कूल ऑफ एजुकेशन के विभागाध्यक्ष डा. प्रशांत कुमार ने स्वागत भाषण दिया। मुख्य अतिथि संस्था के कुलपति डा. रणजीत सिंह ने अपने विचार रखते हुए कहा कि हर साल 14 सितंबर को हिदी दिवस के रूप में और 10 जनवरी को विश्व हिदी दिवस के रूप में मनाया जाता है। कुलस चिव डा. महिपाल सिंह, सूफी जहीर अख्तर, नीतीश कुमार आदि ने भी विचार प्रकट किए। कार्यक्रम का संचालन कामना शर्मा ने किया। डा. गुंजन अग्रवाल ने सभी धन्यवाद प्रकट किया। इस अवसर पर ऋतु शर्मा, अंजुम आरा, फुरकान त्यागी, डा. विश्वास सैनी, डा. अभिमन्यु उपाध्याय, राम जानकी यादव, बलराम टोंक आदि उपस्थित रहे। लाला किशन चंद राजकीय पीजी कालेज में आयोजन किया गया। सीडी केआर इंटर कालेज में हिदी सुलेख प्रतियोगिता का आयोजन कराया गया। सुलेख प्रतियोगिता में कक्षा 3 से 5 तक। कु . छवि, कक्षा 6 से 8 तक कुमारी रितिका सैनी, कक्षा 9 से 12 तक कुमारी काजल बिरला ने प्रथम स्थान प्राप्त किया।

Edited By: Jagran