सहारनपुर : शिलान्यास समारोह के चलते आम लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। सुरक्षा व्यवस्था के नाम पर नए शहर एक तरह से बंधक बना लिया गया। आधे शहर को सील कर आवागमन तक पर रोक लगा दी गई।

मंगलवार को दिल्ली रोड पर नेशनल हाइवे का शिलान्यास कार्यक्रम था। इसके लिए पुलिस ने जो नाकेबंदी की, उससे शहर के हजारों लोग परेशान रहे। कार्यक्रम से करीब दो घंटे पूर्व दीवानी कचहरी तिराहे से दिल्ली रोड पर वाहन तो दूर पैदल आवागमन भी पूरी तरह बंद कर दिया था। पुलिस ने सभी मार्ग बेरिकेटिंग लगाकर सील कर दिए। कलक्ट्रेट तिराहे के निकट स्थित जैन कालेज मार्ग पर बेरिकेटिंग के साथ रस्से डालकर आवागमन पर पूर्ण रोक लगा दी गई। परेशानी बताने पर पुलिस ने कई लोगों के साथ अभद्रता की। जैन कालेज के निकट मल्हीरोड पर वाहनों की आवाजाही प्रतिबंधित किए जाने से हजारों लोग घंटों भटकते रहे। दिल्ली रोड की भी यही हालत रही। आवास विकास के दिल्ली रोड से लेकर हसनपुर चुंगी तक बेरीके¨टग लगाकर बंद कर दिया गया। समारोह में पहुंचने वाले लोगों के वाहनों व बसों को भी दूर ही पार्क कराया जा रहा था। इससे बड़ी संख्या में लोग जाम में फंसकर रह गए। यह सिलसिला कार्यक्रम समाप्त होने तक चला। दुकानों तक को करा दिया बंद

दिल्ली रोड, जैन कालेज रोड, आवास विकास कालोनी रोड सहित कई मार्गो पर स्थित दुकानों व बड़े प्रतिष्ठानों तक को पुलिस ने बंद करा दिया। इन मार्गो पर तो दो दिनों से रेहड़ी, फड़ व खोखे तक हटवाए गए। इसके चलते मजदूरी कर रोजी रोटी कमाने वाले लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। खोखे हटवाने से कई दर्जन लोग बेरोजगार हो गए। एक दिन में लगा दिए दर्जनों पेड़

नगर निगम भी पूरी तरह मुस्तैद नजर आया। जैन कालेज रोड पर दर्जनों की संख्या में न केवल पौधे रोपकर सघन पौधरोपण दर्शाने का प्रयास किया। इसी दौरान पौधों की सुरक्षा को जाली भी लगा दी गई है। इसी मार्ग पर करीब पांच माह से टूटे पड़े नाले के किनारे को रातों रात सही कर दिया गया। जहां से मुख्यमंत्री का काफिला निकलता था, उन सभी गड्ढों को भर दिया गया। निगम की बदली कार्यप्रणाली से क्षेत्रवासी हैरान नजर आए।

Posted By: Jagran