सहारनपुर, जेएनएन। नगर निगम द्वारा पशु डेयरियों को शहर से बाहर करने के फरमान के विरोध में डेयरी संचालक संघर्ष समिति द्वारा पशुओं समेत नगर निगम परिसर में प्रदर्शन की सूचना से अधिकारियों की सांसे फूल गई। सुबह से ही निगम के तीनों प्रवेश द्वारों पर जंजीर डालकर ताले लगवाने के अलावा भारी पुलिस और आरआरएफ तैनात की गई थी। इसके बावजूद प्रदर्शनकारियों ने निगम प्रांगण में जमकर प्रदर्शन किया।

पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत संघर्ष समिति से जुड़े सैकड़ों डेयरी संचालक गुरुद्वारा रोड स्थित जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय पर सुबह से ही पशुओं को लेकर पहुंचने लगे थे। इसकी सूचना मिलते ही निगम प्रशासन ने नगर निगम के तीनों गेट बंद करा दिए तथा पैदल आने जाने वालों को ही निकलने दिया जा रहा था।

संघर्ष समिति अध्यक्ष संजय वालिया के नेतृत्व में दोपहर 12.50 बजे के करीब तेज बारिश के दौरान डेयरी स्वामी कांग्रेस कार्यालय से निगम विरोधी नारेबाजी करते निकले। पुलिस पहले उन्हें गेट पर ही रोकने को मुस्तैद थी, लेकिन तेवर देखकर पीछे हट गई। नगरायुक्त व महापौर विरोधी नारेबाजी करते प्रदर्शनकारी जब निगम के मुख्य द्वार पर पहुंचे तो पुलिस ने गेट खुलवा दिए तथा डेयरी स्वामियों ने निगम में करीब एक घंटे तक नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। इस दौरान संजय वालिया ने कहा कि नगर निगम स्मार्ट सिटी के नाम पर पशु डेयरी संचालकों को बर्बाद करना चाहता है। उन्होंने डेयरी स्थानांतरित करने को स्थान उपलब्ध कराने के अलावा सुरक्षा की व्यवस्था कराने की मांग की। साथ ही कहा कि स्मार्ट सिटी के लिए निगम पहले बिजली के तारों से लेकर टूटी गलियों, नालियों की समस्याओं का समाधान कराए उत्पीड़न सहन नहीं होगा।

---

कार्यालय कब्जाने की धमकी देने पर पहुंचे अधिकारी

तेज बारिश के दौरान डेयरी स्वामियों के प्रदर्शन के दौरान जब काफी देर तक अधिकारी उनके बीच नहीं पहुंचे तो संजय वालिया ने साथियों सहित धरना देना शुरू कर दिया तथा चेताया कि यदि 15 मिनट में अधिकारी नहीं आए तो वह नगरायुक्त कार्यालय पर कब्जा तथा आमरण अनशन शुरू कर देंगे। इसके बाद नगरायुक्त ज्ञानेन्द्र सिंह प्रदर्शनकारियों के बीच पहुंचे तथा हाईकोर्ट के आदेशों का हवाला देकर डेयरी शहर से बाहर करने तथा इसके लिए समय देने की घोषणा की। नोंक-झोंक के बाद समस्या का समाधान मिल बैठकर करने के आश्वासन पर धरना प्रदर्शन समाप्त हुआ।

उधर, कांग्रेस जिलाध्यक्ष मुजफ्फर अली गुर्जर ने भी डेयरी स्वामियों का समर्थन किया। इस दौरान आदेश त्यागी, पप्पू चौधरी, संजीव वालिया कुक्कू, चौ. रनवीर सिंह, हाजी मो. हुसैन व मो. अहमद, शाहवेज, अफजल, रणवीर, शंटी सिंह, रवि चौहान, भागमल, संजय, रियासत, अब्दुल रहमान गुलशन, राजू सहित बड़ी संख्या में डेयरी संचालक मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस